झारखंड में राजनीतिक सरगर्मी बढ़ी

Big Breaking : झारखंड में राजनीतिक सरगर्मी, विधायकों को लगातार संपर्क में रहने का निर्देश।

0 minutes, 1 second Read

Ranchi : झारखंड में राजनीतिक सरगर्मी बढ़ी, किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए सत्तापक्ष की तैयारी आरंभ।

Ranchi : खनन पट्टा मामले में चुनाव आयोग के फैसले के मद्देनजर किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए सत्तापक्ष ने तैयारी आरंभ कर दी है।

कांग्रेस के सारे विधायकों को, विधायक दल के नेता आलमगीर आलम ने निर्देश दिया रांची से बाहर बगैर सूचना के नहीं जाएं।

सूचना देकर बाहर जाने की स्थिति में बुलाने पर चार घंटे के भीतर अपनी उपस्थिति सुनिश्चित करें।

झामुमो और कांग्रेस विधायकों की जल्द ही बैठक होगी, और साथ ही साथ दल के विधायकों को लगातार संपर्क में रहने का निर्देश दिया गया है

सूत्रों के अनुसार 20 अगस्त को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की अध्यक्षता में झारखंड में राजनीतिक सरगर्मी बढ़ी- सत्तापक्ष के सभी विधायकों की बैठक बुलाई गई है।

झारखंड मुक्ति मोर्चा ने भी विधायकों की गतिविधियों को लेकर सतर्कता बरती है।

कांग्रेस में अतिरिक्त सतर्कता की एक बड़ी वजह हाल ही में बंगाल में तीन पार्टी विधायकों इरफान अंसारी, राजेश कच्छप और नमन बिक्सल कोनगाड़ी का भारी नकदी के साथ पकड़ा जाना है

गुरुवार को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजेश ठाकुर नई दिल्ली के लिए रवाना हो गए. बताया जाता है कि वे आलाकमान को राजनीतिक परिस्थितियों से अवगत कराने और दिशा-निर्देश के लिए गए हैं…

यह भी पढ़े : सहायक अभियंता नियुक्ति को चुनौती देने वाली याचिका खारिज

Similar Posts