Latehar

Latehar : लातेहार का प्रारंभिक इतिहास कीवदंतियों और परंपराओं से भरा पड़ा  है चूंकि ज़िले में अधिकांश वन क्षेत्र शामिल थे, इसलिए क्षेत्र पर हमला करने वाले सैनिकों का ध्यान कम जाता था, और क्षेत्र आधुनिक बिहार के अन्य हिस्सों में स्थापित साम्राज्यों के प्रभाव से पृथक बना रहा ।क्षेत्र शायद अतीत में आदिम जनजातियों द्वारा बसा था खरवार, उरांव  और चेरो, तीनो आदिवासी जातियाँ  वास्तव में इस क्षेत्र में शासन किये। पाए गए शिलालेख और अन्य अवशेषों जो ऐसे संकेत देते है की जंगलों और दुर्गम क्षेत्र होने के बावजूद काफी विकसित सभ्यता था। उरावों का मुख्यालय रोहतास गढ़ में तत्कालीन शाहाबाद जिले में था (जिसमें कैमूर और रोहतास के वर्तमान जिले थे) और संकेत मिलते है कि कुछ समय के लिए पलामू का एक हिस्सा रोहतास गढ़ के मुख्यालय से शासन किया गया था।चेरो वंश के विभिन्न राजाओं ने लगभग 200 वर्षों तक पलामू में शासन किया है |चेरो वंश के सबसे प्रसिद्ध राजा मेदनी राय थे, जिन्होने 1665 से 1674 ई० परंपरा के अनुसार गया के दक्षिणी भाग और हजारीबाग और मध्य प्रदेश में बड़े भाग को विजित करके उस पर शासन किया। उनके पुत्र प्रताप राय ने अपने पिता द्वारा निर्मित किले से अलग पलामू में एक किला बनाया । पलामू में चेरो  के वर्चस्व के पहले, रक्सेल राजपूतों ने जिले के ऊपर कब्जा कर लिया था। वे बदले में, शुरुआती मराठा  के बसने वालों की कारागार में थे, हालांकि, अब इसका कोई प्रमाण नही है। वे शायद स्वदेशी जनसंख्या में आत्मसात कर चुके हैं |

BIG BREAKING Lohardaga : आजसू के केंद्रीय कार्यकारी अध्यक्ष कमल किशोर भगत का निधन, संदिग्ध स्थिति में घर में हुई मौत

गंभीर हालत में कमल किशोर भगत की पत्नी को किया गया रिम्स रेफर लोहरदगा : आजसू पार्टी के केंद्रीय कार्यकारी अध्यक्ष एवं लोहरदगा के पूर्व विधायक कमल किशोर भगत का...

Read more
  • Trending
  • Comments
  • Latest
सरकारी कर्मियों को मुख्यमंत्री का बड़ा तोहफा
शिल्पी तिर्की ने छुए भाजपा प्रत्याशी गंगोत्री कुजूर के पांव
सुखदेव नगर थाना डबल मर्डर का खुलासा
पुरानी पेंशन की मांग को लेकर रांची में महाजुटान
सुखदेव नगर थाना डबल मर्डर का खुलासा
लालू यादव की सजा बढ़ाए जाने की याचिका पर सुनवाई

Welcome Back!

Login to your account below

Create New Account!

Fill the forms below to register

Retrieve your password

Please enter your username or email address to reset your password.