सीएम ने दी पेयजल नियमावली को मंजूरी, हर शहरी को हर माह फ्री में मिलेगा 5000 लीटर पीने का पानी

0 minutes, 11 seconds Read
Inside jharkhand: राज्य के नगर निकाय क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को हर माह 5000 लीटर तक पीने का पानी फ्री में मिलेगा। इसके लिए उन्हें कोई शुल्क नहीं देना पड़ेगा। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने इससे संबंधित नियमावली बनाने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। अब इसे कैबिनेट की बैठक में रखा जाएगा। वहां से प्रस्ताव पारित होते ही पूरे राज्य में यह व्यवस्था लागू हो जाएगी। प्रस्ताव में उपभोक्ताओं की चार श्रेणियां तय की गई हैं।

इनमें आवासीय, वाणिज्यक, औद्योगिक और सांस्थिक एवं सरकारी उपभोक्ता शामिल हैं। नगर विकास विभाग के इस प्रस्ताव में पानी के उपयोग करने, उसे जमा करने और कनेक्शन लेने के शुल्क का भी निर्धारण किया गया है। बीपीएल परिवारों को राहत देते हुए वाटर कनेक्शन नहीं लेने की भी बात कही गई है। प्रस्ताव में यह भी कहा गया है कि 5000 लीटर पानी के बाद जो उपभोक्ता जितना अधिक उपभोग करेगा, शुल्क बढ़ता जाएगा।

नियमावली में ये प्रावधान:-

• तय समय पर मिलेगा कनेक्शन-  कनेक्शन के लिए आवेदन की प्रक्रिया ऑनलाइन की गई है। आवेदन, स्वीकृति और कनेक्शन देने की प्रक्रिया का समय निर्धारित रहेगा।

• श्रेणियों के आधार पर होगा मासिक शुल्क-  तय श्रेणियों को कनेक्शन का मासिक शुल्क देना होगा। घरों में कनेक्शन लेने वाले बीपीएल से एपीएल की तुलना में आधा मासिक शुल्क लगेगा।

• कनेक्शन के लिए हर घर में लगेगा मीटर-  जिन घरों में वाटर मीटर नहीं हैं, उनमें मीटर लगाए जाएंगे। अवैध कनेक्शन वाले घर में भी मीटर लगाया जाएगा। साथ ही जुर्माना भी वसूला जाएगा।

• पानी बर्बाद किया तो कार्रवाई होगी-  पानी की बर्बादी में करने वालों पर सख्ती बरती जाएगी। इसके लिए कड़े प्रावधान किए गए हैं।

 

Rohtas Acid Attack : बाइक सवार मनचले ने युवती पर फेंका तेजाब, चेहरा और आंख झुलसा

Lakhimpur Kheri Violence : आशीष मिश्रा की जमानत खारिज, सुप्रीम कोर्ट ने दिया एक हफ्ते के अंदर सरेंडर करने आदेश

और किसी से कोई आशा नहीं, इसी सरकार का गर्दन पकड़ कर लागू करवायेंगे खतियान आधारित नियोजन नीति-तीर्थनाथ आकाश

चौबीस घंटे बाद भी खाली है पुलिस के हाथ

बेकार है झारखंड में भाषा विवाद

ई-स्कूटी से फर्राटे लगाती मेम साहब

 

Similar Posts