अमेरिका में मंदी की आशंका, कई कंपनियों में मचा हड़कंप

अमेरिका में मंदी की आशंका, कई कंपनियों में मचा हड़कंप

बड़े पैमाने पर कर्मचारियों की छंटनी, अमेजन की हायरिंग पर रोक

नई दिल्ली : मंदी की आशंका- अमेरिकी अर्थव्यवस्था पर मंदी (US Economy In Recession) का

आने का संकट गहराता जा रहा है. और इसका बड़ा असर टेक सेक्टर ( Tech Sector)

में रोजगार ( Jobs) पर पड़ने वाला है. राइ़ड कंपनी LYFT और पेमेंट कंपनी

Stripe बड़ी संख्या में कर्मचारियों की छंटनी करने जा रही है. तो अमेजन ( Amazon) ने

आने वाले दिनों कॉरपोरेट हायरिंग ( Corporate Hiring) पर रोक लगाने का फैसला किया है.

महंगे कर्ज से बढ़ा संकट !

अमेरिका क सेंट्रल बैंक फेडरल रिजर्व (Federal Reserve) महंगाई ( Inflation) पर

नकेल कसने के लिए लगातार ब्याज दरों में बढ़ोतरी करता जा रहा है. लेकिन उसके इस फैसले का असर अमेरिकी अर्थव्यवस्था पर पड़ रहा है. अमेरिका अर्थव्यवस्था के मंदी में जाने का जोखिम भी बढ़ता जा रहा है. इसका असर टेक कंपनियों के वित्तीय परफॉर्मेंस और उसके रोजगार पर पड़ने वाला है. इन कंपनियों के एक्जीक्यूटिव का कहना है कि आने वाले दिन बेहद चुनौतिपूर्ण रहने वाले हैं.

टेक सेक्टर के शानदार सफर पर ब्रेक !

कोविड संकट के दौरान जब वैश्विक अर्थव्यवस्था पर संकट के बादल छाये हुए थे. इसके बावजूद टेक सेक्टर ने शानदार प्रदर्शन किया तो रोजगार के अवसर भी इस सेक्टर में बढ़े. बीते कुछ वर्षों में टेक सेक्टर ने लगातार अच्छा ग्रोथ दिखाया है. लेकिन अब हालात बदले हुए नजर आ रहे हैं.

Lyft और Stripe छंटनी की तैयारी में

Lyft ने अपने कुल वर्कफोर्स के 13 फीसदी यानि 700 के बराबर लोगों को बाहर का रास्ता दिखाने का फैसला किया है. राइड कंपनी का मानना है कि मंदी के असर के चलते राइ़़ड-शेयर इंश्योरेंस खर्च में बढ़ोतरी होने की संभावना है. Stripe ने कहा कि कंपनी ने कुल वर्कफोर्स के 14 फीसदी लोगों की छंटनी करने का फैसला किया है.

मंदी की आशंका: अमेजन की हायरिंग पर रोक!

इससे पहले फेसबुक की पैरेंट कंपनी मेटा ने छंटनी के जरिए 10 फीसदी खर्च में कटौती करने का फैसला किया है. कंपनी के सेल्स में कमी आई है. वहीं एलन मस्क द्वारा ट्विटर को खरीदने के बाद वहां भी सीनियर एक्जीक्यूटिव्स से लेकर कई कर्मचारियों की छंटनी की जा रही है. अमेजन का कहना है कि मौजूदा आर्थिक हालात को देखते हुए कंपनी बेहद सतर्कता के साथ निर्णय ले रही है और हालात पर नजर बनाये हुए है. कंपनी का मानना है कि उपभोक्ता महंगाई के मद्देनजर बहुत सोच समझकर खर्च कर रहे हैं. चौथी तिमाही में सेल्स घटने की आशंका के मद्देनजर अमेजन के शेयर के भाव में गिरावट आई है.

सुशासन की शराबबंदी, गाड़ी रोका तो दारु और गाड़ी ठोका तो दारु

Similar Posts