पुलिस की बर्बरता

साइबर अपराधी को पकड़ने के दौरान पुलिस के धक्के से अधेड़ की मौत

author
0 minutes, 0 seconds Read

JAMTARA: कार्रवाई के दौरान पुलिस की बर्बरता से गई अधेड़ की मौत हो गयी.

जामताड़ा में साइबर क्राइम सेल ने साइबर अपराधी के घर में

छापेमारी के दौरान पुलिस ने आरोपी के पिता को धक्का मार दिया

जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई.

साइबर पुलिस पर बर्बरता का आरोप

स्थानीय लोगों का आरोप है कि साइबर ब्रांच की टीम पुलिस

को बिना सूचना दिए ही कार्रवाई करती है.

मामला जामताड़ा के हेठ करमाटार गांव का है

जहां छापेमारी के दौरान पुलिस के धक्के से एक अधेड़ की मौत हो गई.

परिजनों ने पुलिस की पिटाई से मौत होने का आरोप लगाया है.

मृतक सब्जी विक्रेता रावण मंडल के शव को लोगों ने कल शाम गणपत चौक पर रखकर जामताड़ा करमाटांड़ मार्ग को जाम कर दिया और बाजार बंद करा दिया. लोगों का आरोप था कि पुलिस की पिटाई से सब्जी विक्रेता की मौत हुई है. लोगों ने आरोप लगाया कि जामताड़ा साइबर पुलिस द्वारा आए दिन करमाटांड़ थाना क्षेत्र में छापेमारी कर साइबर अपराधी पकड़ने के नाम पर शरीफ लोगों को परेशान किया जाता है और इसी का परिणाम है कि एक सब्जी विक्रेता की मौत हुई है. लोगों ने रात नौ बजे तक शव को सड़क पर रखकर जाम किया और प्रशासन के विरोध में नारेबाजी की. देर रात को एसडीपीओ आनंद ज्योति मिंज और एसडीओ संजय पांडे ने मौके पर पहुंचकर लोगों को शांत कराया और फिर शव को पोस्टमार्टम के लिए जामताड़ा सदर अस्पताल भेजा गया. आक्रोशित लोगों ने कर्माटांड़ बाजार में टायर जलाकर विरोध प्रदर्शन किया.


मैदान में सड़क बनाने से आक्रोश, बन्ना गुप्ता के खिलाफ प्रदर्शन

Similar Posts