Bihar Jharkhand News

पीएफआई पर प्रतिबंध ध्यान भटकाने की एक साजिश

पीएफआई पर प्रतिबंध
पीएफआई पर प्रतिबंध
Facebook
Twitter
Pinterest
Telegram
WhatsApp

Ranchi- पीएफआई पर प्रतिबंध लगाने के फैसले का स्वागत करते हुए जेएमएम प्रवक्ता मनोज पांडे ने कहा है कि पीएफआई पर प्रतिबंध के निर्णय का स्वागत है.

लेकिन सवाल केन्द्र सरकार की नियत का है.

क्योंकि भाजपा की सरकार पाकिस्तान परस्त लोगों के साथ मिलकर सत्ता में काबिज रहता है.

आज तक पुलवामा की सच्चाई देश को नहीं बतायी गयी. उसका गुनाहगार सामने नहीं आया,

इस आंतकवादी घटना में किस किस की संलिप्ता थी, उसकी छानबान नहीं की गयी,

जबकि भाजपा सरकार की यह सबसे बड़ी असफलता और सुरक्षा चुक थी.

पीएफआई पर प्रतिबंध का स्वागत, सवाल सरकार की नियत का

बेरोजगारी और महंगाई से ध्यान भटकाने के लिए भाजपा इस तरह के हथकंडे अपनाते रहती है.

विपक्ष की मुख्य पार्टी भारत जोड़ो यात्रा निकाल रही है. जिसका काफी प्रभाव समाज में पड़ा है,

कहीं यह उससे  ध्यान भटकाने की कोई साजिश तो नहीं है. हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि

आज पूरे देश में राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा का भरपूर स्वगत हो रहा है,

आम लोग उसमें बदलते हिन्दुस्तान की तस्वीर देख रहे हैं.

हालांकि देश के तमाम पार्टियां केंद्र सरकार के इस फैसले के साथ खड़ी है, किसी भी संगठन के द्वारा देश को तोड़ने की साजिश रची जाती है तो कार्रवाई होनी चाहिए, सवाल पर भाजपा की नियत का है.

पीएफआई पर लगा 5 साल का प्रतिबंध

Recent Posts

Follow Us

Sign up for our Newsletter