Bihar Jharkhand News

पुलिस कस्टडी में व्यवसायी की मौत का मामला गरमाया

पुलिस कस्टडी में व्यवसायी की मौत का मामला गरमाया
पुलिस कस्टडी में व्यवसायी की मौत का मामला गरमाया
Facebook
Twitter
Pinterest
Telegram
WhatsApp

MLA मनीष जायसवाल ने पुलिसवालों को खूब सुनाया

हजारीबाग : व्यवसायी सुनील कुमार की पुलिस कस्टडी में हुई मौत का मामला गरमा गया है. मामले में आज सुबह सदर विधायक मनीष जयसवाल एक्शन मूड में दिखे तथा परिजनों के साथ आज सुबह सदर थाना पहुंचे. इस दौरान मनीष जयसवाल काफी गुस्से में थे.

पुलिस कस्टडी: गुस्से में दिखे मनीष जायसवाल

मनीष जायसवाल ने इस दौरान सदर डीएसपी महेश प्रजापति के साथ बैठक की. गुस्से में मनीष जायसवाल का साफ कहना था कि जो पुलिस वाले इसके लिए दोषी हैं उन सभी लोगों पर हत्या के आरोप के तहत केस दर्ज किया जाए. अगर नहीं किया जायेगा तो वे यही थाने में आमरण अनशन पर बैठ जायेंगे. इस दौरान पुलिस प्रशासन भी एक्टिव मूड में दिखे और थाने में हजारीबाग शहर के सभी डीएसपी एवं सदर थाने के अगल-बगल के सभी थानों के थाना प्रभारी सदर थाने में मौजूद रहे.

पुलिस पर जमकर बरसे विधायक मनीष जायसवाल

भारी विरोध को देखते हुए परिजनों के आवेदन पर हत्या का केस दर्ज कर गया. इसके बाद मनीष जायसवाल ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि वह अभी इस मुद्दे को अंतिम चरण तक ले जाएंगे. इसके लिए जो भी आरोपी होंगे उन्हें बख्शा नहीं जाएगा. वह मृतक का पोस्टमार्टम भी हजारीबाग में नहीं करवाना चाहते हैं इसके लिए उन्होंने डीसी को आवेदन दिया है. अगर अनुमति मिली तो पोस्टमार्टम रांची के फॉरेंसिक टीम की निगरानी में किया जाएगा.

पुलिस कस्टडी: जानिए सदर डीएसपी ने क्या कहा

वहीं सदर डीएसपी महेश प्रजापति ने हमें बताया कि मामला संज्ञान में आया है. एफआईआर भी दर्ज कर ली गई है. जांच चल रही है. जांच उपरांत उचित कार्रवाई की जाएगी. इस दौरान थाने में काफी संख्या में लोग मौजूद रहे. प्रशासन के खिलाफ नाराजगी साफ तौर पर देखी जा रही थी.

रिपोर्ट: शशांक शेखर

Recent Posts

Follow Us

Sign up for our Newsletter