Jammu and Kashmir में आतंकी हमला पर राजनीति शुरू, कांग्रेस ने कहा…

Jammu and Kashmir

जम्मू कश्मीर: Jammu and Kashmir के कठुआ में सेना पर आतंकी हमला में एक तरफ सेना आतंकवादियों को घेर कर उनके साथ मुठभेड़ कर रही है तो दूसरी तरफ देश में राजनीति शुरू हो गई है। सेना पर हमला मामले को लेकर जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती, उमर अब्दुल्ला, समेत कांग्रेस ने भी निशाना साधा और प्रधानमंत्री नरेंद्र पर हमला बोला। सेना पर आतंकी हमला मामले में जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती ने कठुआ हमले की निंदा करते हुए कहा कि यह दुखद और चौंकाने वाला है कि सेना के जवान ड्यूटी के दौरान अपनी जान गंवा रहे हैं।

जहां 2019 के पहले आतंकवाद का नामोनिशान नहीं था वहां अब सुरक्षा की स्थिति सबके सामने है। वहीं पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने भी सेना पर हमला की निंदा की और कहा कि यह भयानक खबर है, यह दिन बहुत बुरा है। ड्यूटी के दौरान आज हमने चार सुरक्षाकर्मी खो दिया। इस हमले की मैं निंदा करता हूं और परिवारों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करता हूं।

इधर कठुआ हमला की कांग्रेस अध्यक्ष ने भी निंदा की और कहा कि जम्मू कश्मीर में आतंकी हमले में भारतीय सेना के बहादुर जवानो की शहादत पर गहरा दुःख हुआ। सेना पर हुए कायराना आतंकी हमले की हम निंदा करते हैं। जम्मू कश्मीर में यह एक महीने में पांचवां आतंकी हमला है। हम जवानों के परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हैं, और जवानों की वीरता और साहस को सलाम करते हैं।

इसके साथ ही उन्होंने केंद्र सरकार पर हमला भी बोला और कहा कि जम्मू कश्मीर में सुरक्षा की स्थिति खराब होती जा रही है, कितनी भी सफाई दी जाए, झूठे दावे, खोखली डींगें और छाती ठोकने से कुछ नहीं होता। मोदी सरकार में जम्मू कश्मीर में राष्ट्रीय सुरक्षा आपदा बनी हुई है। आतंकवाद के खिलाफ राष्ट्र के साथ खड़े होने का हमारा संकल्प दृढ है।

वहीं भाजपा ने भी आतंकवादी हमला पर बयान दिया और कहा कि आतंकवादियों ने एक बार फिर कायराना हमला किया है। सुरक्षा बलों ने घाटी में शांति बहाल करने की काफी कोशिश की लेकिन इस तरह की घटनाएं बहुद दुखद है। इन कायरों को बख्शा नहीं जाएगा। सरकार जीरो टोलेरेंस की नीति पर काम कर रही है। बता दें कि सोमवार को जम्मू कश्मीर के कठुआ में आतंकवादियों ने सेना की गाड़ी पर ग्रेनेड फेंका और अंधाधुंध फायरिंग की जिसमें सेना के चार जवान शहीद हो गए। वहीं हमले के बाद सेना और पैरामिलिट्री ने इलाके की घेराबंदी कर ली है और आतंकियों की खोज की जा रही है।

यह भी पढ़ें- कठुआ में Army पर आतंकियों ने किया हमला, मुठभेड़ जारी

https://youtube.com/22scope

 

77वें जन्मदिन 77वें जन्मदिन 77वें जन्मदि77वें जन्मदिन77वें जन्मदिनन
Jammu and Kashmir Jammu and Kashmir Jammu and Kashmir Jammu and Kashmir Jammu and Kashmir

Jammu and Kashmir

Share with family and friends: