Jehanabad : गांव में पुल नहीं है, इसलिए नहीं होगी बेटों की शादी

author
0 minutes, 1 second Read

Jehanabad: शादी नहीं हो रही है – जहानाबाद में पईन पर पुल नहीं होने के कारण 3 गांव को युवाओं

की नहीं हो रही शादी जहानाबाद में पईन पर पुल नहीं होने के कारण कोसियावा,

सिकरीया,खगड़िया गांव के युवाओं के शादी नहीं हो रही है

जनप्रतिनिधि एवं पदाधिकारी गाँव में एक पुल का निर्माण नहीं करा सके.

कोसियावा, सिकरिया ,खगड़िया गांव के लोग पानी से भरे

पईन में चलकर काको प्रखंड मुख्यालय जाने के लिए विवश हैं.

ग्रामीणों का कहना है कि हम लोग के यहां पुल नहीं होने के

कारण युवाओं की शादी नहीं हो रही है.

जो लोग भी अपनी बेटी की शादी करने के लिए

रिश्ता जोड़ने इस गांव आते हैं. और जैसे ही गांव में जाने के रास्ते पर पानी लगता है शादी करने वाले व्यक्ति लौट कर चले जाते हैं. उनका कहना है कि जब गांव में जाने का रास्ता ही नहीं है तो इस गांव में अपनी बेटी की शादी करा कर अपनी बेटी के जीवन को बर्बाद नहीं कर सकते, इसलिए इस गांव के लोग पलायन करने के लिए मजबूर हैं. लोगों का कहना है कि अगर कोई व्यक्ति बीमार हो जाता है तो झोलाछाप डॉक्टर के सिवा इलाज कराने के लिए कोई उपाय नहीं है. गांव के लोग किसी तरह पानी को पारकर काको या जहानाबाद ले जाते हैं. अगर रात में कोई बीमार हो जाता है तो अस्पताल जाना काफी मुश्किल है. लोगों का कहना है कि एक साल में यह हालत लगभग 8 महीने तक रहता है.

शादी नहीं हो रही है – जनप्रतिनिधियों से लगा चुके हैं कई बार गुहार

लोगों का कहना है कि जनप्रतिनिधियों और पदाधिकारियों से गुहार लगाते लगाते थक चुके हैं. लेकिन पुल का निर्माण नहीं हो रहा है. भले ही सरकार गांव को शहर जैसी सुविधा उपलब्ध कराने की बात कर रही है लेकिन जब इन तीनों गांव की हालत देखी जाती है तो इससे लगता है कि अभी भी ग्रामीण क्षेत्रों में लोग विकास से कोसों दूर नजर आ रहे हैं. जबकि इस क्षेत्र से प्रतिनिधित्व करने वाले नेता मंत्री भी रह चुके हैं लेकिन मंत्री और विधायक आज तक गांव के लोगो के लिये एक पुल का निर्माण नहीं करा सके, ग्रामीण जनप्रतिनिधियों को कोसते हुए कहते हैं की वोट की बात आती है तो जनप्रतिनिधि जनता को झांसा देकर वोट ले लेते हैं. लेकिन विकास की बात पर वे दूर-दूर नजर नहीं आते हैं.

Similar Posts