44.8 C
Jharkhand
Monday, June 17, 2024

Live TV

6TH PHASE: पांच की कुर्सी, 3 बाहुबली, प्रतिष्ठा है दांव पर…

मंजेश कुमार 6TH PHASE

पटना: लोकसभा चुनाव के छठे चरण का मतदान शनिवार को होना है। बिहार में छठे चरण में आठ लोकसभा क्षेत्र में मतदान होना है। छठे चरण के मतदान में एक बाहुबली, 2 बाहुबली की पत्नी समेत कई दिग्गज मैदान में हैं जिनके भाग्य का फैसला मतदाता कल करेंगे। छठे चरण के मतदान में कहीं अपनी सीट बचाने की लड़ाई चल रही है तो कहीं नाक। पूर्वी चंपारण, पश्चिम चंपारण, वाल्मीकिनगर, महाराजगंज और गोपालगंज सीट पर जहां अपनी कुर्सी बचाने की लड़ाई है तो शिवहर, वैशाली और सीवान सीट पर नाक की लड़ाई।

पूर्वी चंपारण में दिग्गज राधामोहन सिंह का मुकाबला वीआईपी से
मोतिहारी सीट पर दिग्गज राधामोहन सिंह का मुकाबला वीआईपी के राजेश कुशवाहा से है। एक तरफ राजेश कुशवाहा मुकेश सहनी, राजद के MY समीकरण और कुशवाहा मतदाताओं के बल पर अपनी जीत का दावा ठोक रहे हैं तो पिछले तीन कार्यकाल से इस सीट से चुन कर संसद जाने वाले भाजपा के प्रत्याशी राधा मोहन सिंह अपने विकास कार्य और नीतीश-मोदी के नाम पर अपनी जीत को लेकर आश्वस्त दिख रहे हैं।

पश्चिम चंपारण में तीन बार की कुर्सी बरक़रार या फिर मदन मोहन की नैया होगी पार
पश्चिम चंपारण लोकसभा सीट पर तीन बार के सांसद और बिहार भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल के लिए जीत किसी चुनौती से कम नहीं है। पश्चिम चंपारण सीट पर उनका टक्कर कांग्रेस के मदन मोहन तिवारी से है। माना जाता है कि पश्चिम चंपारण लोकसभा क्षेत्र में मदन मोहन तिवारी की मतदाताओं के बीच अच्छी पैठ है और वह वर्तमान सांसद को कड़ी टक्कर दे रहे हैं। हालांकि संजय जायसवाल की जीत सुनिश्चित करने के लिए भाजपा ने भी कोई कोर कसर नहीं छोड़ी है और चुनाव प्रचार के लिए कई दिग्गज भी पहुंचे हैं।

महाराजगंज में वर्तमान सांसद की रहेगी कुर्सी या नए नेता को मिलेगी जगह
महाराजगंज लोकसभा क्षेत्र में भाजपा के जनार्दन सिंह सिग्रीवाल की अच्छी पकड़ मानी जाती है और यहां से वे लगातार जीत कर विधानसभा भी जाते रहे हैं। लोकसभा चुनाव जीतने में भी उन्हें ज्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ी। हालांकि इस बार भी माना जा रहा है कि भाजपा वोटर के आगे कांग्रेस का राजनीति में नया चेहरा और बिहार कांग्रेस अध्यक्ष के बेटे आकाश सिंह घुटने तक देंगे।

हालांकि महराजगंज सीट पर माना जा रहा है कि राजद के वोटर समीकरण बदल सकते हैं और कांग्रेस और राजद मिल कर कुछ कमाल कर सकती है। अब देखने वाली बात है कि महाराजगंज में आकाश कुमार सिग्रीवाल को कितना टक्कर देते हैं।

वाल्मीकिनगर में चलेगा तीर या चीनी होगी मीठी
वाल्मीकिनगर लोकसभा सीट पर वर्तमान सांसद जदयू के सुनील कुमार की टक्कर राजद के दीपक यादव से है। दीपक यादव लोकसभा चुनाव घोषणा के बाद भाजपा से टिकट कट जाने के बाद राजद में आए और वाल्मीकिनगर से चुनाव लड़ रहे हैं। एक तरफ जहां सुनील कुमार को जदयू और भाजपा वोटर पर भरोसा है तो दीपक यादव चीनी मिल संचालक होने की वजह से अपने आप को किसानों के और चीनी मिल से जुड़े लोगों के ज्यादा करीब मानते हैं।

अब देखने वाली बात होगी कि वाल्मीकिनगर के वोटर का दिल सुनील कुमार तीर से घायल कर अपने पक्ष में कर पाते हैं या फिर दीपक यादव के चीनी की मिठास ज्यादा काम आती है।

गोपालगंज में जदयू या वीआईपी
गोपालगंज सीट पर एक तरफ जदयू के वर्तमान सांसद डॉ आलोक कुमार सुमन मैदान में हैं तो दूसरी तरफ वीआईपी के प्रेमनाथ चंचल। गोपालगंज लोकसभा सीट पर दोनों ही उम्मीदवार अपनी जीत का दावा कर रहे हैं। एक तरफ जहां डॉ आलोक कुमार सुमन अपने किये काम की याद लोगों को दिला रहे हैं तो दूसरी तरफ प्रेमनाथ चंचल अपने वादों और राजद के समीकरण के बल पर चुनाव जीतना चाहते हैं।

शिवहर, वैशाली और सीवान में बाहुबल की प्रतिष्ठा दांव पर
शिवहर, वैशाली और सीवान लोकसभा सीट पर राजनीति के साथ ही बाहुबल की प्रतिष्ठा भी दांव पर है। एक तरफ शिवहर लोकसभा सीट पर पूर्व सांसद आनंद मोहन की पत्नी लवली आनंद जदयू के टिकट पर मैदान में जीत का दावा कर रही है तो दूसरी तरफ वैशाली में राजद की टिकट मुन्ना शुक्ला जबकि सीवान में पूर्व बाहुबली सांसद शहाबुद्दीन की पत्नी हीना शहाब ने मुकाबला को त्रिकोणीय बना दिया है।

शिवहर में चलेगा जातिवाद या कोर वोटर का जादू
शिवहर में जदयू की टिकट पर पूर्व बाहुबली सांसद आनंद मोहन की पत्नी लवली आनंद एनडीए के कोर वोटर और हिंदुत्व के नाम पर मैदान में जीत का दावा कर रही हैं तो दूसरी तरफ राजद रितु जायसवाल वैश्य वोट और राजद के MY समीकरण पर भरोसा जता रही हैं। हालांकि माना जाता है कि शिवहर के वैश्य वोटर एनडीए के पक्ष में रहेंगे लेकिन रितु जायसवाल को उम्मीद है कि जातिवाद के नाम पर शायद कुछ उनकी तरफ भी आ जाएं।

वैशाली में मुन्ना शुक्ला को है आस तो लोजपा(रा) की वीणा देवी को एनडीए पर विश्वास
वैशाली लोकसभा क्षेत्र वैसे तो एनडीए का मजबूत गढ़ माना जाता है और यहां से लोजपा(रा) की उम्मीदवार वीणा देवी को नीतीश-मोदी और चिराग पासवान के नाम पर चुनाव जीतने का विश्वास है तो दूसरी तरफ एनडीए के गढ़ में सेंध लगाने के लिए राजद ने भूमिहार समाज से आने वाले बाहुबली मुन्ना शुक्ला को मैदान में उतारा है।

दोनों के बीच टक्कर मुकाबला का है और देखने वाली बात है कि जनता के दिल तक मुन्ना शुक्ला अपनी बात पहुंचाने में कामयाब होते हैं या फिर नीतीश-मोदी-चिराग का नाम वीणा देवी के काम आता है।

सिवान में मुकाबला है त्रिकोणीय
बिहार के हॉटसीट लोकसभा क्षेत्रों में से एक सीट सिवान भी है। दरअसल सिवान से राजद की टिकट पर राजद के दिग्गज नेता अवध बिहारी चौधरी मैदान में हैं तो दूसरी तरफ जदयू की उम्मीदवार विजय लक्ष्मी। हालांकि यहां मुकाबला को रोचक बनाती है पूर्व बाहुबली सांसद शहाबुद्दीन की पत्नी हीना शहाब की उपस्थिति जिन्हे न सिर्फ उनके समर्थक या मुस्लिम वोट बल्कि हिंदू वोटर का भी एक बड़ा हिस्सा अपना समर्थन दे रहा है।

हीना शहाब की मौजूदगी राजद और जदयू दोनों ही उम्मीदवारों की टेंशन बढ़ा रही है। हीना शहाब सिवान लोकसभा सीट से राजद के टिकट को ठुकरा कर निर्दलीय चुनाव लड़ रही हैं और सिवान के वोटरों का एक बड़ा तबका मान रहा है कि इस बीच किसी की जीत इतनी आसान नहीं है।

https://www.youtube.com/@22scopebihar/videos

BUXAR पहुंची मायावती, कांग्रेस और भाजपा को लेकर कहा…

6TH PHASE 6TH PHASE 6TH PHASE 6TH PHASE 6TH PHASE

6TH PHASE 6TH PHASE 6TH PHASE 6TH PHASE 6TH PHASE

Related Articles

Stay Connected

115,555FansLike
10,900FollowersFollow
314FollowersFollow
187,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles