30.1 C
Jharkhand
Wednesday, May 22, 2024

Live TV

Chardham Yatra : अक्षय तृतीया पर खुले केदारनाथ धाम के कपाट, हेलीकॉप्टर से पुष्प वर्षा के बीच पीएम मोदी के नाम से सीएम धामी ने कराई पहली पूजा

डिजीटल डेस्क : Chardham Yatraअक्षय तृतीया के पावन अवसर पर शुक्रवार 10 मई की सुबह 7 बजे केदारनाथ धाम के कपाट श्रद्धालुओं के दर्शन के लिए खुलने के साथ Chardham Yatra का विधिवत शुभारंभ हो गया। केदारनाथ धाम के कपाट खुलने के समय धाम में करीब 7 हजार से अधिक श्रद्धालु मौजूद रहे। मंदिर को 20 क्विंटल से अधिक फूलों से सजाया गया है। कपाट खुलते समय तीर्थयात्रियों पर हैलीकॉप्टर द्वारा फूलवर्षा हुई।

केदारनाथ धाम में 10 मई की सुबह उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्‍कर सिंह धामी पहली पूजा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नाम की कराई। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सभी श्रद्धालुओं को बधाई दी देश‌ एवं प्रदेश की खुशहाली की कामना की। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बार Chardham Yatra नया कीर्तिमान बनायेगी। प्रदेश सरकार तीर्थयात्रियों की सुविधा हेतु प्रतिबद्ध है।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने विश्वास व्यक्त किया कि प्रदेश में शुक्रवार से प्रारंभ हो रही चारधाम यात्रा अपने पिछले सभी पुराने रिकार्ड तोड़ेगी।
Chardham Yatra : कपाट खुलते ही केदारधाम में दर्शन को उमड़े भक्त
Chardham Yatra : पत्नी संग केदारधाम पहुंचे सीएम धामी, बोले – इस बार टूटूंगे सभी पुराने रिकार्ड

सीएम पुष्‍कर सिंह धामी के साथ उनकी पत्‍नी गीता धामी भी धाम में मौजूद रहीं। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रदेशवासियों को अक्षय तृतीया की बधाई एवं शुभकामनाएं दी हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रतिवर्ष बैशाख माह की तृतीया तिथि को मनाया जाने वाला यह पर्व मांगलिक कार्यों के लिए शुभ माना जाता है। मुख्यमंत्री ने कामना की कि यह पर्व हम सबके जीवन में सौभाग्य एवं समृद्धि लेकर आए। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने विश्वास व्यक्त किया कि प्रदेश में शुक्रवार से प्रारंभ हो रही Chardham Yatra अपने पिछले सभी पुराने रिकार्ड तोड़ेगी।

राज्य सरकार सुरक्षित Chardham Yatra के लिए प्रयासरत है। मुख्यमंत्री धामी ने Chardham Yatra पर आने वाले श्रद्धालुओं को शुभकामनाएं देते हुए उनकी मंगलमय यात्रा की कामना की।

22Scope News

बाबा केदार की डोली हुई आगवानी, भारी संख्या में भक्त बने साक्षी

इससे पहले 9 मई बृहस्पतिवार सुबह बाबा केदार की पंचमुखी डोली गौरीकुंड से केदारनाथ धाम के लिए रवाना हुई। अपराह्न 3 बजे केदारनाथ धाम पहुंची। बाबा केदार की डोली के साथ हजारों श्रद्धालुओं भी केदारपुरी पहुंच गए। इस दौरान श्रद्धालुओं के जयकारों और सेना के बैंड की धुन से केदारनाथ धाम गूंज उठा। बदरीनाथ केदारनाथ मंदिर समिति के अध्यक्ष अजेंद्र अजय ने पंचमुखी डोली के केदारनाथ धाम में पहुंचने पर अगवानी की। मां गंगा की डोली मुखबा से गंगोत्री धाम के रवाना हो गई है। शुक्रवार सुबह डोली धाम पहुंच गई है। वहीं, मां यमुना की डोली शुक्रवार सुबह खरशाली गांव से धाम के लिए रवाना हो गई है।

थे। कपाटोद्घाटन का साक्षी बनने के लिए लगभग 15 हजार तीर्थयात्री गुरुवार शाम ही गंगोत्री व केदारनाथ धाम पहुंच चुके थे जबकि, 35 हजार से अधिक तीर्थयात्री विभिन्न पड़ावों पर ठहरे हुए हैं।
कपाट खुलने के दौरान 10 मई को केदारधाम का मनोरम दृश्य

केदारनाथ में मौसम साफ, 22 लाख भक्तों ने दर्शन को कराया है पंजीकरण

बदरीनाथ केदारनाथ मंदिर समिति से मिली जानकारी के मुताबिक, 9 मई देर शाम तक 16 हजार से अधिक श्रद्धालु पहले दिन बाबा केदार के दर्शन के लिए केदारपुरी पहुंच गए थे। कपाटोद्घाटन का साक्षी बनने के लिए लगभग 15 हजार तीर्थयात्री गुरुवार शाम ही गंगोत्री व केदारनाथ धाम पहुंच चुके थे जबकि, 35 हजार से अधिक तीर्थयात्री विभिन्न पड़ावों पर ठहरे हुए हैं। आज केदारनाथ धाम के कपाट खुलने के बाद यमुनोत्री धाम के कपाट सुबह 10.29 बजे और गंगोत्री धाम के कपाट 12.25 बजे खुलेंगे। बदरीनाथ धाम के कपाट 12 मई को सुबह 6 बजे खुलेंगे।

Chardham Yatra के लिए अब तक 22 लाख से अधिक श्रद्धालु पंजीकरण करा चुके हैं। पंजीकरण के आंकड़े को देखते हुए इस बार भी प्रदेश सरकार को Chardham Yatra में श्रद्धालुओं का नया रिकॉर्ड बनने की उम्मीद है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बार चारधाम यात्रा नया कीर्तिमान बनायेगी। प्रदेश सरकार तीर्थयात्रियों की सुविधा हेतु प्रतिबद्ध है।
केदारधाम का कपाट खुलने पर पीएम मोूदी की ओर से पहला पूजन करने को पहुंचे सीएम धामी

केदारधाम में भोर 4 बजे से ही पहुंचने लगे भक्त

शुक्रवार 10 मई को प्रातः 4 बजे से मंदिर परिसर तथा दर्शन पंक्ति में यात्रियों के आने का सिलसिला शुरू हो गया था। उसके बाद बीकेटीसी अध्यक्ष अजेंद्र अजय, रावल भीमाशंकर लिंग, मुख्यकार्याधिकारी योगेंद्र सिंह पुजारी, धर्माचार्य वेदपाठी तथा केदार सभा के पदाधिकारी तथा जिलाधिकारी डा. सौरभ गहरवार प्रशासन के अधिकारी पूरब द्वार से मंदिर पहुंच गये। शुक्रवार को केदारनाथ में मौसम साफ रहा। आस-पास तथा दूर बर्फ होने से सर्द बयारें चलती रहीं। यहां श्रद्धालुओं के लिए जगह – जगह भंडारे आयोजित किये गये हैं। मुख्य सेवक भंडारा कार्यक्रम समिति ने भी भंडारे लगाए हैं।

उत्तराखंड के राज्यपाल ने दी शुभकामनाएं

राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (सेनि) ने प्रदेशवासियों को अक्षय तृतीया की शुभकामनाएं दी हैं। राज्यपाल ने कहा कि संपूर्ण पापों का नाश करने वाली एवं सभी सुखों को प्रदान करने वाली अक्षय तृतीया की पावन तिथि सभी के जीवन में नई ऊर्जा का संचार करे। उन्होंने कामना की कि मां लक्ष्मी की कृपा से सभी के जीवन में समृद्धि, सौभाग्य व सफलता का संचार हो एवं सबके अन्न, धन और विद्या में वृद्धि हो। राज्यपाल ने शुक्रवार को अक्षय तृतीया के दिन गंगोत्री, यमुनोत्री एवं केदारनाथ धाम के कपाट खुलने के अवसर पर सभी श्रद्धालुओं को बधाई दी। उन्होंने सभी श्रद्धालुओं की सुगम व सुखद Chardham Yatra की कामना की है।

Related Articles

Stay Connected

115,555FansLike
10,900FollowersFollow
314FollowersFollow
187,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles