पूर्व उप मुख्यमंत्री SUSHIL MODI का निधन बिहार के लिए अपूरणीय क्षति

SUSHIL MODI

SUSHIL MODI

गया: सुशील मोदी बिहार की राजनीति में अपना परचम लहराने वाले छात्र जीवन से विद्यार्थी परिषद से जुड़कर संघर्ष करते हुए बिहार की राजनीति में भारतीय जनता पार्टी के सशक्त एवं संघर्षशील नेता के रूप में जाने जाते थे। बिहार प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष सहित राष्ट्रीय सचिव और बिहार के उपमुख्यमंत्री, नेता प्रतिपक्ष विधानसभा और विधान परिषद सहित राष्ट्रीय स्तर पर भी भाजपा संगठनकर्ता एवं कुशल प्रशासक के रूप में जाने जाते थे।

आपातकाल के समय जेपी आंदोलन से लेकर आज तक अपने राजनीतिक जीवन में बिहार के लिए संघर्ष करते रहे। जैसे ही उनकी निधन की सूचना मिली भाजपा नेताओं एवं कार्यकर्ताओं मे शोक की लहर दौड़ पड़ी। बिहार में लगातार लालू राबड़ी के शासनकाल में भ्रष्टाचार एवं गुंडागर्दी के विरुद्ध लगातार संघर्ष करते रहे। 2005 के विधानसभा के चुनाव में पूर्ण रूप से NDA बनने पर बिहार के डिप्टी सीएम के रूप में शपथ लिए।

2005 से लगातार 2013 तक बिहार के डिप्टी सीएम एवं 2017 से डिप्टी सीएम के रूप में 2020 तक सेवा दिए। उक्त बातें पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी के श्रद्धांजलि सभा के अवसर पर राष्ट्रीय मानवाधिकार संगठन के प्रदेश अध्यक्ष के कार्यालय कालीबाड़ी में प्रदेश अध्यक्ष भाजपा किसान मोर्चा के सह प्रभारी डॉ मनीष पंकज मिश्रा जिला उपाध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद ने उनके निधन पर शोक प्रकट करते हुए कहा।

सुशील मोदी जैसे नेता के निधन से बिहार को अपूरणीय क्षति हुई है, जिसका भरपाई असंभव है। बिहार में कुशल संगठनकर्ता एवं कुशल राजनीतिज्ञ के साथ-साथ कुशल प्रशासनिक के रूप में जाने जाते थे। लोकसभा चुनाव के पूर्व अपने कैंसर रोग के जानकारी सोशल मीडिया के माध्यम से बताये थे कि मैं लोकसभा चुनाव में प्रचार नहीं कर सकूंगा। इस सूचना पर बिहार की जनता एवं कार्यकर्ताओ ने काफी दुख महसूस किया और उनके स्वास्थ्य लाभ के लिए भगवान से प्रार्थना की।

मोदी जी के लोकसभा चुनाव में भाजपा कार्यकर्ताओं एवं बिहार की जनता जोशीले आवाज को सुनने से वंचित रह गया। आज भाजपा नेताओं के लिए बहुत ही दुखद दिन है कि सुशील मोदी हम सब के बीच में नहीं रहे। बिहार की जनता संगठन से लेकर बिहार के डिप्टी सीएम के रूप में उनके द्वारा किए गए काम को युगो युगो तक याद रखा जायेगा। लोकसभा, राज्यसभा, विधानसभा एवं विधान परिषद मे उनकी आवाज अमर हो गई। उनका बिहार के विकास में महत्वपूर्ण योगदान है। आज उनके चित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धा सुमन अर्पित किया गया।

भगवान विष्णु से प्रार्थना करते हैं कि उनकी आत्मा शांति प्रदान करें तथा अपने चरणों में स्थान दें। उनके परिवार और शुभचिंतकों को ईश्वर दुख सहन करने की शक्ति प्रदान करें। दो मिनट का मौन रखकर आज की श्रद्धांजलि सभा में जिला मीडिया प्रभारी संतोष ठाकुर, राष्ट्रीय मानवाधिकार संगठन के कार्यकारणी प्रदेश अध्यक्ष राणा रंजीत सिंह, प्रदेश उपाध्यक्ष सुनील कुमार बंबइया, कमल बारीक, बबलू गुप्ता, मंटू कुमार, डॉ महेश विद्यार्थी सहित अन्य लोग उपस्थित होकर श्रद्धा सुमन अर्पित की।

गया से आशीष कुमार की रिपोर्ट 

https://www.youtube.com/@22scopebihar/videos

यह भी पढ़ें- पटना एयरपोर्ट पहुंचा सुशील मोदी का पार्थिव शरीर

SUSHIL MODI SUSHIL MODI SUSHIL MODI SUSHIL MODI

SUSHIL MODI