Bihar Jharkhand News

‘मुझे अपने लिए कोई ख्वाहशि नहीं है’: नीतीश कुमार

Facebook
Twitter
Pinterest
Telegram
WhatsApp

ARA: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि मुझे अपने लिए कोई ख्वाहिश नहीं है मै सिर्फ विपक्षी दलों को एकजुट करना चाहता हूं, 2024 चुनाव की तैयारियों को लेकर पूछे गये सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि 2024 की बात आने वाले समय में की जाएगी. मगर बिहार में अभी लोगों के बीच समाधान यात्रा है उस पर केंद्रित हैं. कहा कि 2024 को लेकर हमारी सब लोगों से बात हो चुकी है. क्या होगा कितने लोग एक साथ आएंगे इन तमाम चीजों पर आने वाले समय में बैठक और चर्चा होगी.

‘बिहार में सभी साथ हैं, अन्य राज्यों में भी हो रही है बात’


नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार में हम लोग एक साथ हैं. अगल-बगल के राज्यों में भी बात हुई है. देश के दौरे पर उन्होंने कहा कि जहां बोला जाएगा वहां पर चले जाएंगे. हमें जहां पर निमंत्रण दिया जाएगा हम वहां पर जाएंगे. मेरा अपने लिए कोई ख्याल नहीं है यह मैं बार-बार कह चुका हूं. मेरी बस एक ख्वाहिश है कि ज्यादा से ज्यादा विपक्ष के लोग एक साथ में आये.उन्होंने कहा कि वे सिर्फ देश हित में काम करना चाहते हैं. अपने हित लिए मेरी कोई ख्वाहिश नहीं है.

अश्विनी चौबे के धरने पर बोलने से बचे नीतीश कुमार

अश्वनी चौबे के धरना पर बैठने के सवाल पर नीतीश कुमार कुछ भी बोलने से बचे. उन्होंने कहा कि लोगों का क्या कुछ रुझान है.यह भीड़ के माध्यम दिखाई दे रहा है.

महाराणा प्रताप की प्रतिमा का किया अनावरण’

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज महाराणा प्रताप की प्रतिमा का अनावरण किया.

उन्होंने कहा कि 9 मई को महाराणा प्रताप का जन्म दिवस है.

जो अब हर वर्ष राष्ट्रीय समारोह के रूप में मनाया जाएगा.

महाराणा प्रताप का समाज के प्रति बहुत बड़ा योगदान है.

महाराणा प्रताप के कार्य और उनके बलिदान को नई पीढ़ी

को सही तरीके से जानकारी मिल सके. महाराणा प्रताप ने

लोगों के हित में जो काम किया वह नई पीढ़ी को पता चलना चाहिए.

उन्होंने कहा कि महाराणा प्रताप अपने शासनकाल में

महिलाओं के प्रति भी काफी सजग थे. महिला हित में

महाराणा प्रताप ने काम किया जो बहुत बड़ी चीज है.

हम भी यह बराबर कहते हैं कि महिला हित में काम होना चाहिए. उन्होंने अपने समय में वह काम किया था. महाराणा प्रताप के मूर्ति स्थापित करने की जगह को मैंने खुद चुना है जो भी लोग यहां से गुजरेंगे सभी लोगों को महाराणा प्रताप की प्रतिमा दिखेगी.

तेलंगाना में विपक्ष की बैठक में नहीं बुलाने के सवाल को टाल गए नीतीश

तेलंगाना में विपक्ष की बैठक पर मुख्यमंत्री को नहीं बुलाए जाने पर नीतीश कुमार ने कहा कि
उन्हें इस बैठक की कोई जानकारी नहीं है. कोई अगर अपनी पार्टी की मीटिंग करता है, इसमें जिन को निमंत्रण दिया गया होगा वह लोग गए होंगे. उन्होंने कहा कि यह पार्टी की मीटिंग थी कोई दूसरी बात नहीं थी. किसी और के पार्टी की रैली थी जिन लोगों को आमंत्रण किया गया था वह लोग गये थे. अभी समाधान यात्रा पर हैं अगर कोई इस बीच बुलाएगा भी तो उसमें शामिल नहीं हो पाएंगे. उन्होंने कहा कि केसीआर पटना भी आए हैं. और उनके साथ समारोह में शामिल भी हुए थे.

रिपोर्ट: प्रणव

Recent Posts

Follow Us

Sign up for our Newsletter