Bihar Jharkhand News
Bihar Jharkhand Latest News | Live TV

BJP की अहम बैठक: जेपी नड्डा को मिल सकता है एक्सटेंशन

author
0 minutes, 2 seconds Read

NEW DELHI: भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक आज से दिल्ली में हो रही है. बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा समेत सभी महासचिव, भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्री, सभी प्रदेश अध्यक्ष और बाकी पदाधिकारी शामिल होंगे. मंगलवार को बैठक के दूसरे दिन प्रधानमंत्री मोदी का रोड शो होगा.

भाजपा की इस बैठक को काफी अहम माना जा रहा है क्योंकि बैठक में नये अध्यक्ष की घोषणा होनी है. बता दें कि महज हफ्तेभर बाद पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा का कार्यकाल पूरा हो रहा है. हालांकि, लोकसभा चुनाव में करीब सालभर का ही वक्त बचा है, इसलिए ज्यादा संभावना इस बात की है कि नड्डा को 2024 तक का एक्सटेंशन दिया जा सकता है. वहीं, भाजपा संविधान के नियमों के मुताबिक नड्डा को एक्सटेंशन मिलने के आसार हैं.

‘भाजपा के संविधान के मुताबिक भी अध्यक्ष का चुनाव संभव नहीं’


तकनीकी तौर पर देखें, तो 2022 में भाजपा संगठन के चुनाव नहीं हो सके हैं, इसलिए जेपी नड्डा को ही लोकसभा चुनाव तक पद पर बने रहने को कहा जा सकता है. भाजपा के संविधान के मुताबिक कम से कम 50ः यानी आधे राज्यों में संगठन चुनाव के बाद ही राष्ट्रीय अध्यक्ष का चुनाव किया जा सकता है. इस लिहाज से देश के 29 राज्यों में से 15 राज्यों में संगठन के चुनाव के बाद ही भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष का चुनाव होता हैं.

लगातार दूसरी बार अध्यक्ष बनने वाले तीसरे नेता हों सकते हैं नड्डा


अगर नड्डा को फिर से अध्यक्ष की जिम्मेदारी मिलती है,

तो वे लगातार दूसरा कार्यकाल हासिल करने वाले लालकृष्ण आडवाणी और अमित शाह के बाद तीसरे नेता हो सकते हैं.

हालांकि, राजनाथ सिंह भी दो बार पार्टी अध्यक्ष बने थे,

लेकिन उनका कार्यकाल लगातार नहीं था। नीचे ग्राफिक में भाजपा के

गठन से लेकर अब तक बने अध्यक्षों का ब्यौरा दिया गया है.

गिनाएंगे PM मोदी के 9 साल के कार्यकाल की उपलब्धियां

राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में प्रधानमंत्री के रूप में

पीएम मोदी के 9 साल के कार्यकाल की ‘उपलब्धियों’ और गुजरात

में भारी जीत पर प्रकाश डाला जाएगा. वहीं, जिन चुनावों में बीजेपी

की हार हुई है, उन्हें लेकर चर्चा और प्लानिंग की जाएगी.

बीजेपी की 160 बूथों पर कमजोरी और वहां से मिले फीडबैक को लेकर भी चर्चा की जाएगी.

Similar Posts