झारखंड का पहला सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजी पार्क तैयार

Seraikela-Kharsawan- झारखंड का पहला सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजी पार्क (software technology park) पूरी तरह तैयार है, कई मल्टीनेशनल और आईटी कंपनियां (Multinational companies) यहां आने को तैयार बैठी है, माना जा रहा है कि यदि सब कुछ ठीक ठाक रहा तो जल्द ही यहां कई कंपनियों का आगवन होगा, साथ ही प्रारम्भिक तौर पर तीन हजार युवाओं को रोजगार मिलेगी. सरायकेला-खरसांवा से यहां के युवा विदेशी कंपनियों में अपनी सेवा प्रदान कर देश और राज्य की किस्मत को बदलेंगे.

झारखंड का पहला सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजी पार्क, स्थानीय युवाओं को रोजगार के आसार

बतलाया जा रहा है कि तीन माह के अन्दर इसका आंतरिक रिपोर्ट आ जायेगा, साथ ही अधिसंरचना का शेष काम को पूरा कर लिया जायेगा. कुल मिलाकर 2023 से यहां युवाओं को रोजगार मिलने की शुरुआत होगी.

यहां बता दें कि इस पार्क के निर्माण में करीबन 25 करोड़ की लागत आयी है.

यहां सेंटर फॉर एक्सीलेंस (Center for Excellence) के साथ साथ यूएस की

क्यू कनेक्ट कंपनियां अपना डाटा सेंटर स्थापित करेगी.

यहां बता दें कि इसके साथ ही जमशेदपुर, देवघर, रांची, धनबाद में

इसका निर्माण किया जा रहा है.

इसके बाद बोकारो में भी सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजी पार्क बनाने की तैयारी की जा रही है.

जो झारखंड का पांचवां सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजी पार्क होगा.

सरायकेला के आदित्यपुर में एसटीपी लगभग तैयार हो चुका है,

जबकि देवघर, रांची और धनबाद में इसका काम प्रगति पर है

आदिवासी आईडिया सम्मेलन, इन पांच प्रस्तावों से बदलेगी झारखंड की तस्वीर

Similar Posts