30.1 C
Jharkhand
Wednesday, May 22, 2024

Live TV

मधेपुरा में ट्रिपल मर्डर मामले में 2 सुपारी किलर समेत 9 गिरफ्तार

मधेपुरा : मधेपुरा में ट्रिपल मर्डर कांड में बड़ा खुलासा हुआ है। जमीन विवाद में बड़े भाई ने ही छोटे भाई को रास्ते से हटाने की साजिश रची थी। घटना में प्रयुक्त हथियार बरामद किया गया है। दो शूटर एक महिला समेत नौ लोगों को गिरफ्तार किया गया है। दरअसल, मधेपुरा सदर थाना क्षेत्र के सकरपुरा गांव में बीते 18 दिसंबर को हुए ट्रिपल मर्डर की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। इस चर्चित हत्याकांड में शामिल दो शूटर व एक महिला समेत नौ लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया।

वहीं इस घटना में प्रयुक्त हथियार भी पुलिस ने बरामद कर लिया है। घटना के पीछे मृतक सूर्यनारायण साह का उनके बड़े भाई रामनारायण साह से जमीन विवाद चल रहा था। इस बाबत आज मधेपुरा एसपी कार्यालय में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में कोसी प्रक्षेत्र के डीआईजी शिवदीप वामनराव लांडे के समक्ष एसपी राजेश कुमार ने बताया कि इस घटना को पुलिस ने चुनौती के रूप में लिया है।

घटना की संवेदनशीलता को देखते हुए मधेपुरा पुलिस के नेतृत्व में इस कांड के उद्भेदन एवं घटना में संलिप्त अपराधकर्मियो की गिरफ्तारी हेतु तीन टीमों का गठन किया गया। जिसमें प्रथम टीम में अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी मधेपुरा के साथ, थानाध्यक्ष मुकेश कुमार, सह थानाध्यक्ष राजकिशार मंडल एवं थाना के सशस्त्र बल को रखा गया। इस टीम का काम घटना के संबंध में आसूचना सकलन कर घटना एवं इसमें संलिप्त अपराधकर्मियों का पता कर गिरफ्तार करना था।

दूसरी टीम में तकनिकी सेल के पदाधिकारी सतेन्द्र मिश्रा, सिपाही धीरेन्द्र कुमार, प्रभात कुमार एवं अखिलेश कुमार को रखा गया। इसका कार्य तकनीकी आधार पर संलिप्त अपराधकर्मियों का ठिकानों का पता कर सहयोग करना था। तीसरी टीम में पुलिस उपाधीक्षक आलोक कुमार के नेतृत्व में गठन किया गया। इनको एफएसएल टीम एवं डॉग स्क्वॉयड के साथ समन्वय बनाकर घटनास्थल पर वैज्ञानिक साक्ष्यों का संग्रहण करना था। तीनों टीमों ने संयुक्त रूप से 60 घंटों तक दिन-रात मेहनत कर घटना का सफलतापूर्वक उद्‌भेदन कर लिया। इस घटना में संलिप्त नौ अभियुक्तों की गिरफ्तारी की गई।

गिरफ्तार अपराधियों में अमरेंद्र साह, रामनारायण साह, निरंजन साह, अभिषेक कुमार, बबलू साह, अमरजीत कुमार, चंदन देवी, विनोद कुमार और नीरज कुमार शामिल हैं। पुलिस ने इनके पास से घटना में प्रयुक्त दो देसी कट्टा, पांच जिंदा कारतूस और पांच मोबाइल भी बरामद किए हैं। इस मामले को लेकर एसपी राजेश कुमार ने बताया कि इस घटना में संलिप्त अपराधकर्मी अमरेंद्र साह (सुपारी किलर) और निरंजन साह पेशेवर अपराधकर्मी हैं। इनके विरूद्ध पूर्व से ही अन्य थानों में कई जघन्य अपराधिक मामले दर्ज हैं। गिरफ्तार अन्य का भी आपराधिक इतिहास खंगाला जा रहा है।

रमण कुमार की रिपोर्ट

https://22scope.com

https://youtube.com/22scope

Related Articles

Stay Connected

115,555FansLike
10,900FollowersFollow
314FollowersFollow
187,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles