41 C
Jharkhand
Thursday, April 18, 2024

Live TV

शर्मनाक: प्रसव के बाद 1500 रुपये दो तभी मिलेगा बच्चा, गोविंदपुर सीएचसी में नर्सों की करतूत

धनबाद. कोयलांचल धनबाद के सदर अस्पताल में टीबी जांच के नाम पर रिश्वत मांगने का मामला अभी ठंड भी नहीं पड़ा कि नया मामला गोविंदपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में देखने को मिला है, जहां प्रसव के पश्चात परिजनों को बच्चा गोद में देने के एवज में बख्शीश के तौर पर 1500 रुपये की वसूली की जा रही है। पीड़ित परिवार ने प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को लिखित शिकायत देते हुए कार्रवाई की मांग की है।

प्रसव के बाद 1500 रुपये दो तभी मिलेगा बच्चा

गौरतलब है कि गुरुवार को संध्या लगभग चार बजे गोविंदपुर प्रखंड के नौडीहा गांव के अत्यंत गरीब दलित परिवार की महिला सुमति देवी अपने पति बलराम रजवार के साथ प्रसव कराने पहुंची थी। एडमिट होने के 1 घंटे के पश्चात उसने एक बच्चे को जन्म दिया। इसके बाद बच्चा देने के एवज में अस्पताल की नर्स एवं कर्मियों के द्वारा 1500 रुपये की डिमांड की गई। काफी देर के बाद मान-मनौवल के बावजूद जब नर्सों का दिल नहीं पसीजा और वो नहीं माने तो मजबूरन उन्हें 1500 रुपये देने पड़े। रिश्वतखोरी की इस घटना की लिखित शिकायत करते हुए महिला के पति ने प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी से कार्रवाई की मांग की है।

22Scope News
प्रसव के बाद 1500 रुपये दो तभी मिलेगा बच्चा

वहीं जब न्यूज़ 22 स्कोप की टीम CHC परिसर पहुंची तो न सिर्फ वह महिला बल्कि अस्पताल परिसर में जितनी भी प्रसूता वहां प्रसव पश्चात स्वास्थ्य लाभ ले रही थी, सभी के परिजनों ने वहां के कर्मियों के ऊपर 1500-1500 रुपये लेने का आरोप लगाया।

वहीं पूरे मामले में पचिकित्सा पदाधिकारी एवं सिविल सर्जन ने फोन पर बताया कि दोषी कर्मियों पर जांच के बाद कार्रवाई होगी। ऐसे में बड़ा सवाल यह उठ रहा है कि जब सरकारी अस्पताल में ही इस तरह से गरीब मरीजों के साथ नाइंसाफी होगी और उनसे पैसे की मांग की जाएगी तो लोग कहां जाएंगे?

धनबाद से राजकुमार जायसवाल की रिपोर्ट

Related Articles

Stay Connected

115,555FansLike
10,900FollowersFollow
314FollowersFollow
16,171SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles