जन कल्याणकारी योजनाओं को लेकर चल रही हेमंत सरकार- बाबा रामदेव

जन कल्याणकारी योजनाओं को लेकर चल रही हेमंत सरकार- बाबा रामदेव

बाबा रामदेव ने की सीएम हेमंत की तारीफ

पतंजलि राज्य में शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में करेगी काम- बाबा रामदेव

रांची : योग गुरु बाबा रामदेव गुरुवार को प्रोजेक्ट भवन पहुंचकर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से मुलाकात की.

मुख्यमंत्री से यह उनकी शिष्टाचार भेंट थी. मुलाकात करने के बाद मीडिया से बात करते हुए

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की तारीफ करते हुए कहा कि सरकार जन कल्याणकारी योजनाओं

को लेकर चल रही है. उन्होंने कहा कि शिक्षा, स्वास्थ्य के क्षेत्र में

योगदान पतंजलि के द्वारा राज्य में किया जाएगा. इसको लेकर उनसे संवाद किया.

डेढ़-दो दशक से सोरेन परिवार से हमारा संबंध रहा है.

शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में काम करेगी पतंजलि

बाबा रामदेव ने कहा कि आने वाला समय में पतंजलि परिवार राज्य की जनता के लिए शिक्षा और स्वास्थ्य से संबंधित बड़ी योगदान देने वाली है. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की तारीफ करते हुए कहा कि राज्य की जनकल्याणकारी योजनाओं को लेकर आगे चलने का काम मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन कर रहे हैं.

बाबा रामदेव ने सियासी हालात पर कुछ भी कहने से किया इंकार

राजधानी रांची पहुंचे योगगुरु बाबा रामदेव ने राज्य के ताजा सियासी हालात पर कुछ भी कहने से उन्होंने इंकार कर दिया. दरअसल, जब पत्रकारों ने बाबा रामदेव से पूछा कि क्या बीजेपी राज्य सरकार को परेशान कर रही है तो योगगुरु ने कहा कि ये राजनीतिक विषय है. गौरतलब है कि बाबा रामदेव को बीजेपी की तरफ झुकाव रखने वाले शख्स के तौर पर जाना जाता है.

रांची एयरपोर्ट पर बाबा रामदेव का स्वागत

इससे पहले एयरपोर्ट पर पहुंचते ही प्रशंसकों ने उनका जोरदार स्वागत किया. पूरा एयरपोर्ट परिसर भारत माता की जय और वंदे मातरम के नारों से गूंज उठा. यहां पत्रकारों के पूछने पर बाबा ने कहा कि विपरीत परिस्थितियों में भी भारत बेहतर दशा में है. पिछले कुछ वर्षों में कोरोना जैसी आपदा समेत विभिन्न समस्याएं आईं, बावजूद सरकारों ने बेहतर काम करते हुए आपदा से निजात दिलाई. उन्होंने सरकारों के काम की तारीफ की. इसके बाद अपने प्रशंसकों के साथ शहर की ओर निकल गए. इस दौरान वहां बाबा के साथ सेल्फी और उनकी तस्वीर लेने के लिए लोग उनके अगल-बगल घूमते नजर आए.

रिपोर्ट: मदन सिंह

Sap जवानों को 2027 तक मिला सेवा विस्तार, कुल 34 प्रस्तावों पर लगी मुहर

Similar Posts