29.8 C
Jharkhand
Monday, May 20, 2024

Live TV

Jharkhand Weather Update 29-04-2024: सरायकेला और पूर्वी सिंहभूम में पारा 45 तक चढ़ेगा, आज रांची, खूंटी, रामगढ़, पलामू और गढ़वा में हीटवेव का येलो अलर्ट

रांची : Jharkhand Weather के मिजाज में 29 अप्रैल के लिए सबसे अहम Update यह है कि सोमवार को राज्य के आठ जिलों को छोड़ अन्य सभी हीटवेव का असर रहेगा। कहीं जरा कम तो कहीं ज्यादा। सबसे अहम बात यह है कि राज्य के पूर्वी सिंहभूम और सरायकेला जिले में दिन का तापमान इस सीजन में पहली बार 45 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने की आशंका जताई गई है। इसी के साथ राजधानी रांची के अलावा खूंटी, रामगढ़, पलामू और गढ़वा कुल पांच स्थानों के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है। रांची में बादलों की मौजूदगी आसमान में भले ही दिखे लेकिन दिन का तापमान 41 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने का अनुमान है जो कि बीते 24 घंटे में तपिश के बढ़ने का ही सूचक है।

Jharkhand में आज 11 जिलों में हीटवेव का गंभीर अलर्ट, कुछ में बूंदाबांदी के भी आसार

Jharkhand में सोमवार को पांच जिलों में जहां हीटवेव का येलो अलर्ट जारी हुआ है तो वहीं अन्य 11 जिलों के लिए हीटवेव के लिहाज से गंभीर अलर्ट जारी किया गया है। इनमें बोकारो, धनबाद, जामताड़ा, देवघर, दुमका, पाकुड़, गोड्डा, साहिबगंज, सरायकेला, पूर्वी और पश्चमी सिंहभूम जिले शामिल हैं। इनमें बीते 24 घंटे में दिन और रात का तापमान एक से दो डिग्री सेल्सियस अधिक रहने का अंदेशा व्यक्त किया गया है। इसके अलावा सिमडेगा, गुमला, लोहरदगा, लातेहार, पलामू और गढ़वा में हल्की बूंदाबांदी की भी संभावना व्यक्त की गई लेकिन उससे तपिश की तेजी में कोई खास कमी आने की संभावना नहीं है।

Jharkhand में सोमवार को पांच जिलों में जहां हीटवेव का येलो अलर्ट जारी हुआ है तो वहीं अन्य 11 जिलों के लिए हीटवेव के लिहाज से गंभीर अलर्ट जारी किया गया है।
फाइल फोटो

चतरा, गोड्डा, पाकुड़, गढ़वा, पलामू और पश्चमी सिंहभूम में 44 डिग्री पहुंचेगा तापमान

Jharkhand में सोमवार को अधिकांश स्थानों पर पारा 40 डिग्री के पार पहुंचने का अंदेशा जताया गया है। इस कारण भले ही भारतीय मौसम विभाग के ग्राफिक चार्ट में कई जिलों के लिए चेतावनी या अलर्ट भले ही जारी नहीं हुआ है लेकिन तपिश की तेजी वहां भी आम जनमानस को झुलसाएगी। बताया जा रहा है कि सोमवार को चतरा, पाकुड, गोड्डा, गढ़वा, पलामू और पश्चिमी सिंहभूम जिलों में सूरज की तपिश की तेजी बनी रहेगी। इसके चलते इनमें दिन का तापमान 44 डिग्री सेल्सियस तक या उसके भी पार जाने का अनुमान है। भारतीय मौसम विभाग के रांची केंद्र ने जनसामान्य को चेताया है कि हीटवेव वाले जिलों में लोग जरूरी होने पर ही दिन में बाहर निकलें।

Jharkhand के जिलों 29 April 2024 को दिन का संभावित तापमान एकनजर में

रांची में अधिकतम तापमान 41 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापपमान 26 डिग्री सेल्सियस, खूंटी में अधिकतम 40 और न्यूनतम 27, गुमला में अधिकतम 41 और न्यूनतम 26, हजारीबाग में अधिकतम 42 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम 26 डिग्री सेल्सियस, रामगढ़ में अधिकतम 41 और न्यूनतम 25, बोकारो में अधिकतम 43 और न्यूनतम 27, पलामू में अधिकतम 44 और न्यूनतम 26, लोहरदगा में अधिकतम 41 और न्यूनतम 26, लातेहार में अधिकतम 42 और न्यूनतम 26, गढ़वा में अधिकतम 44 और न्यूनतम 26, चतरा में अधिकतम 44 और न्यूनतम 26, कोडरमा में अधिकतम 43 और न्यूनतम 26,  देवघर मे अधिकतम 42 और न्यूनतम 26, धनबाद में अधिकतम 42 और न्यूनतम 26, दुमका में अधिकतम 42 और न्यूनतम 26, गिरिडीह में अधिकतम 42 और न्यूनतम 26, गोड्डा में अधिकतम 44 और न्यूनतम 27, जामताड़ा में अधिकतम 42 और न्यूनतम 26, पाकुड़ में अधिकतम 44 और न्यूनतम 27, साहिबगंज में अधिकतम 42 और न्यूनतम 27, सिमडेगा में अधिकतम 43 और न्यूनतम 25, सरायकेला में अधिकतम 45 और न्यूनतम 27, पूर्वी सिंहभूम में अधिकतम 45 और न्यूनतम 27 एवं पश्चिमी सिंहभूम में अधिकतम 44 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम 27 डिग्री सेल्सियस तापमान रहने का अनुमान है।

हीटवेव दौरान बचाव के लिए जारी एडवाइजरी

Jharkhand में सोमवार को भी हीटवेव वाले जिलों में दिन के 11 बजे अपराह्न 3 बजे तक धूप में बाहर निकलने से बचने की मौसम विभाग ने एडवाइजरी जारी की है। राज्य में कोल्हान, उत्तरी-छोटानागपुर और संथान प्रमंडल के लोगों को सलाह दी गई है कि हीटवेव के दौरान निर्जलीकरण से बचने को प्यास न लगे होने पर पानी पीते रहने की सलाह दी गई है ताकि शरीर में पानी की मात्रा कम न होने पाए। जरूरी होने पर छाता, तौलिया आदि से शरीर को ऊपरी हिस्से से शरीर का बचाव करते हुए दिन के समय बाहर निकलने की सलाह दी है।

इसके अलावा हल्के रंग के ढीले और छिद्रयुक्त सूती कपडे पहनें। धूप में बाहर जाते समय सुरक्षात्मक चश्मे, छाता / टोपी, जूते या चप्पल का प्रयोग करें।

तापमान अधिक होने पर बाहरी गतिविधियों से बचें। यात्रा करते समय अपने साथ पानी अवश्य रखें।

शराब, चाय, कॉफी और कार्बोनेटेड शीतल पेय के सेवन से बचें क्योंकि इनसे शरीर निर्जलित होता है।

उच्च प्रोटीन वाले भोजन और बासी भोजन से बचें। बुजुर्ग, बच्चे, बीमार और गर्भवती महिला ऐहतियात बरतें क्योंकि हीटवेव में उनके अस्वस्थ होने का खतरा ज्यादा होता है

ओ.आर.एस., घर में बने लस्सी, तोरानी (चावल का पानी), नींबू पानी, छाछ आदि का उपयोग करें जो शरीर को

फिर से हाइड्रेट करने में मदद करता है।

Related Articles

Stay Connected

115,555FansLike
10,900FollowersFollow
314FollowersFollow
187,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles