रेलवे फिर बना निशाना, नक्सलियों ने चीचाकी स्टेशन के समीप उड़ाया रेल पटरी

0 minutes, 0 seconds Read

गिरिडीह : गिरिडीह में नक्सलियों ने रेलवे ट्रैक को निशाना बनाया है. नक्सलियों ने बिहार-झारखंड में बंद बुलाया है. इसी बीच बुधवार देर रात उन्होंने गिरिडीह के सरिया के चिचाकी रेलवे स्टेशन से करीब छह सौ मीटर दूर रेल पटरी को आईईडी लगाकर उड़ा दिया. घटना के बाद नक्सलियों ने पर्चा भी छोड़ा है. बता दें कि जिस रेल पटरी को आईईडी लगाकर उड़ाया गया, वो धनबाद वाया पारसनाथ गया रेल खंड के अधीन है. गनीमत ये रही कि इस दौरान कोई बड़ा हादसा नहीं हुआ.

चिचाकी रेल स्टेशन के समीप जोरदार धमाके की आवाज सुनकर गैंगमैन ने इसकी स्टेशन मैनेजर को दिया. सीनियर कमांडेंट भी जवानों के साथ चिचाकी रेल स्टेशन पहुंचे. रेल ट्रेक की मरम्मत कराने में जुट गए. करीब सात घंटे आवागमन बाधित रहा. कई ट्रेनों को जहां-तहां रोक दिया गया. कुछ ट्रेनों के रूट भी बदले गये.

रेलवे लाइन क्षतिग्रस्त होने के कारण इस रूट पर ट्रेनों का आवागमन बाधित हो गया. जानकारी के अनुसार घटना के वक्त पारसनाथ स्टेशन से गंगा दामोदर एक्सप्रेस खुल चुकी थी, जिसे चौधरीबांध स्टेशन में रोक दिया गया. जबकि गया से इंटरसिटी एक्सप्रेस भी खुलने वाली थी. इसे भी गया रेलखंड पर ही रोकागया. इस दौरान हटिया इस्लामपुर एक्सप्रेस और लोकमान्य तिलक एक्सप्रेस को भी पारसनाथ स्टेशन पर ही रोक दिया गया. जानकारी के अनुसार धनबाद वाया पारसनाथ और गया रेलखंड पर करीब सात घंटे तक हर ट्रेनों का आवागमन ठप रहा. रेल पटरी मरम्मत के बाद सुबह सात बजे आवागमन शुरू हो पाया. सीनियर कमांडेंट की माने तो नक्सलियों ने इस स्टेशन के समीप एंब्यूस लगाकर रखा हुआ था.

रिपोर्ट : आशुतोष

उदयपुर- अहमदाबाद रेलवे ट्रैक पर विस्फोट की आवाज से हड़कंप

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *