44.8 C
Jharkhand
Monday, June 17, 2024

Live TV

Rajasthan Copper Mine Incident : राजस्थान के झुंझुनूं के खदान में फंसे 14 अफसर सुरक्षित निकाले गए और एक की मौत, अब निकाले जाएंगे फंसे हुए 150 मजदूर

डिजीटल डेस्क : Rajasthan Copper Mine Incident – राजस्थान के झुंझुनूं के कोलिहान खदान की लिफ्ट में फंसे 14 अधिकारियों को बुधवार सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है। इनमें तीन की हालत गंभीर होने पर उन्हें जयपुर रेफर किया गया है। एक विजिलेंस अधिकारी उपेंद्र पांडेय की मौत हो गई है। खदान में अभी भी 150 मजदूर भी फंसे हुए हैं और अब  उनका भी रेस्क्यू होना है। बताया जा रहा है कि विजिलेंस अफसरों की टीम मंगलवार शाम को खदान में उतरी थी और  खदान से निकलते समय मंगलवार रात करीब सवा 8 बजे लिफ्ट की चेन टूट गई थी।

Rajasthan Copper Mine Incident – 3 घायल अधिकारी उपचार को भेजे गए जयपुर

मंगलवार रात झुंझुनूं के हिंदुस्तान कॉपर लिमिटेड की खदान में लिफ्ट मशीन 1875 फीट नीचे गिर गई थी। उस कारण विजिलेंस टीम समेत 15 अधिकारी लिफ्ट के अंदर फंस गए थे। उनमें से 14 को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया जबकि अन्य लोगों का रेस्क्यू जारी है। पुलिस ने बताया कि बाहर निकाले गए 14 में से तीन की हालत नाजुक थी। उन्हें जयपुर रेफर कर दिया गया है। डॉक्टरों की टीमें पहले से ही आपात स्थिति के लिए तैयार थीं। लिफ्ट से बाहर निकालते ही सभी घायलों को तुरंत मेडिकल सुविधा दी गई।

झुंझुनूं के हिंदुस्तान कॉपर लिमिटेड की खदान में लिफ्ट मशीन 1875 फीट नीचे गिर गई थी। उस कारण विजिलेंस टीम समेत 15 अधिकारी लिफ्ट के अंदर फंस गए थे।
Rajasthan Copper Mine Incident – कोलिहान खदान के बाहर रेस्क्यू के लिए पहुंचे अधिकारी
Rajasthan Copper Mine Incident – फंसे 150 मजदूरों को तत्काल बाहर निकालना मुश्किल

एसपी ने बताया कि 150 मजदूरों को भी बाहर निकाला जाएगा लेकिन जब तक लिफ्ट में फंसे लोगों को बाहर नहीं निकाल लिया जाता, तब तक 150 मजदूरों का रेस्क्यू नामुमकिन है। विजिलेंस टीम मंगलवार शाम को जब खदान में उतरी थी और जहां लिफ्ट फंसी उसी स्पॉट के पीछे 150 से ज्यादा मजदूर भी काम कर रहे थे। वे सब भी इस लिफ्ट हादसे के कारण खदान के अंदर ही फंस गए। स्थानीय मजदूरों ने बताया कि खदान काफी गहरी है।

यहां तीन मीटर प्रति सेकंड की रफ्तार से लिफ्ट नीचे जाती है और अंदर नीचे उतरने का यही एकमात्र साधन है। इसके अलावा कोई और विकल्प नहीं है। यह लिफ्ट लोहे के रस्सों पर चलती है। आने-जाने के लिए दो अलग- अलग लिफ्ट हैं। खदान में जाने से पहले हर मजदूर की मेडिकल जांच की जाती है और उसके बिना अंदर खदान में जाने की अनुमति नहीं मिलती। खेतड़ी तांबा खदान में कर्मचारियों की दो जगह हाजिरी होती है – खदान में प्रवेश करने पर भी और बाहर निकलने पर भी ताकि कर्मचारी के सुरक्षित होने का पता चल सके।

एसपी ने बताया कि 150 मजदूरों को भी बाहर निकाला जाएगा लेकिन जब तक लिफ्ट में फंसे लोगों को बाहर नहीं निकाल लिया जाता, तब तक 150 मजदूरों का रेस्क्यू नामुमकिन है।
Rajasthan Copper Mine Incident – कोलिहान खदान हादसे में फंसे 150 मजदूर भी
Rajasthan Copper Mine Incident – मौके पर पहुंचे कलेक्टर, एसपी और विधायक

देर रात 1 बजे मौके पर पहुंचे नौमकाथाना कलेक्टर शरद मेहरा ने बताया कि फिलहाल सब कुछ सामान्य है। सिर्फ एक कैजुअलटी है। बाकी को छोटी-मोटी इंजरी है। किसी को गंभीर चोट नहीं आई है। एसपी प्रवीण नायक नूनावत ने बताया कि एक से दो घंटे में सभी को बाहर निकाल लिया जाएगा। खेतड़ी के विधायक धर्मपाल गुर्जर ने बताया कि प्रशासन की तरफ से पहले से ही बाहर एंबुलेंस और डॉक्टरों का इंतजाम किया गया है। घायलों को तुरंत मेडिकल सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी।

Related Articles

Stay Connected

115,555FansLike
10,900FollowersFollow
314FollowersFollow
187,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles