Bihar Jharkhand News
Bihar Jharkhand Latest News | Live TV

1932 खतियान के खिलाफ कुछ बेईमान मेरे खिलाफ गए हैं कोर्ट- सीएम हेमंत

1932 खतियान के खिलाफ कुछ बेईमान मेरे खिलाफ गए हैं कोर्ट- सीएम हेमंत

0 minutes, 0 seconds Read

साहिबगंज : 1932 खतियान- मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन दो दिवसीय साहिबगंज के दौरे पर

बुधवार को बरहेट विधानसभा क्षेत्र के तलबरिया पहुंचे.

इसके बाद मुख्यमंत्री का काफिला पतना मिशन चर्च मैदान में पहुंचा.

जहां पतना और बरहेट के कार्यकर्ताओं के साथ कार्यकर्ताओं के सम्मेलन में शामिल हुए.

सीएम हेमंत ने सभी नव वर्ष की शुभकामनाएं दी.

1932 खतियान: जब तक मैं कुर्सी पर रहूंगा लागू करके ही छोड़ूंगा

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए विपक्ष पर जमकर निशाना साधा.

बीजेपी का बिना नाम लिये हुए सीएम हेमंत ने कहा कि मैंने 1932 खतियान लागू किया,

परंतु राज्य के कुछ बेईमान किस्म वालों ने उसे निरस्त कराने को लेकर कोर्ट का

दरवाजा खटखटाया है. लेकिन चिंता मत कीजिए, जब तक मेरी सरकार रहेगी

और जब तक मैं कुर्सी पर रहूंगा मैं इसे लागू करके ही छोडूंगा.

1932 खतियान: दो साल कोरोना से लड़ना पड़ा

मुख्यमंत्री ने कहा कि जब से हमारी सरकार बनी हैं हम किसी न किसी समस्या से जूझते रहे हैं. सरकार बनाने के बाद ही कोरोना जैसे महामारी से पूरा दो साल लड़ना पड़ा. सभी लोगों को उचित सुविधा मुहैया कराई गई. हम अपने बुद्धि-विवेक से राज्य को बचाने में कामयाब रहे.

राज्य में बह रही विकास की गंगा

सीएम हेमंत ने कहा कि देश के विभिन्न राज्यों के अलावे विदेश में फंसे लोगों को भी मंगाया गया. कोरोना को लेकर राज्य में बेहतर स्वास्थ्य व्यवस्था मुहैया कराई गई. राज्य की जनता ने भी इस विकट परिस्थिति में सहयोग करने में मदद किया है. इसके बावजूद राज्य में विकास की गंगा बह रही है.

1932 खतियान: सीएम करेंगे परिसंपत्तियों का वितरण

बता दें कि सीएम हेमंत सोरेन का आज से दो दिवसीय दौरा शुरू हुआ है. जहां नए वर्ष पर पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ मुलाकात की और शुभकामनाएं दी. मुख्यमंत्री अपने आवास पर रात्रि विश्राम करेंगे. 5 जनवरी को मुख्यमंत्री अपने आवासीय कार्यालय पर कुछ परिसंपत्तियों का वितरण करेंगे और एक बार फिर पार्टी कार्यकर्ता से मिलेंगे.

इसके बाद दोपहर 2 बजे के बाद रांची के लिए रवाना हो जाएंगे. मुख्यमंत्री के इस दो दिवसीय कार्यक्रम को देखते हुए प्रशासन ने तैयारी पूरी कर ली है. जब तक मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन साहिबगंज जिले में रहेंगे तब तक पदाधिकारी अपने कार्यों को लेकर सतर्क हैं.

रिपोर्ट: अमन

Similar Posts