40.4 C
Jharkhand
Thursday, June 20, 2024

Live TV

चंद्रशेखर सिंह पार्क बिकने के चलते दूसरे दिन भी हंगामा, MLA के सामने लोगों ने कहा- वोट का करेंगे बहिष्कार

पटना सिटी : पटना सिटी क्षेत्र के अगमकुआं थाना अंतर्गत महात्मा गांधी नगर चंद्रशेखर सिंह पार्क बिक्री कर देने के सवाल पर आज फिर लोगों का गुस्सा फूटा। वहीं कुम्हरार विधानसभा के स्थानीय विधायक अरुण कुमार सिन्हा के सामने लोगों ने कहा कि हमलोग लोकसभा चुनाव में वोट का बहिष्कार करेंगे। साथ ही विधायक से लोगों की थोड़ी बहुत नोक-झोंक भी हुई।

22Scope News

बीजेपी विधायक अरुण कुमार सिन्हा ने कहा कि पार्क का काम रुकवाए हैं। 15 दिन का समय दिया गया है और इसमें हमने कागज भी मांगा है कि किस आधार पर पार्क की बिक्री की गई है। वही पार्क कैसे बिक्री हुई है। वहीं लिट्रा वैली स्कूल के प्रबंधक से भी कागज मांगा गया है। विधायक ने कहा कि हम कागज उपलब्ध करवाते हैं। उन्होंने कहा कि यह कोर्ट का मामला है। विधायक अरुण सिन्हा ने कहा कि जनता की भी बात है और जनता की बातों को रखा जाएगा। उसमें क्या पहल निकलता है उसके बाद देखा जाएगा। बीच का रास्ता निकालने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि मामला हमारे पास आया है लोगों द्वारा बुलाए गए हैं हम यहां आए हैं तो जल्दी ही कुछ निष्कर्ष निकालेंगे।

लोगों ने कहा कि समय रहते अगर कोई ठोस नतीजा जबतक नहीं निकलता है तबतक हमलोग वोट का बहिष्कार करेंगे। जिसमें विधायक के साथ नोक-झोंक भी कुछ देर के लिए हुआ। मौके पर महिलाएं एवं पुरुष ने जमकर प्रदर्शन किया। उन्होंन कहा कि पार्क जेसा था वैसी स्थिति में दिया जाए। चंद्रशेखर बाबू की प्रतिमा नहीं टूटेगी, मंदिर नहीं टूटेगा और इसे जिन्होंने भी खरीदा है उसे वापस करें। वहीं स्थानीय नागरिकों में काफी गुस्सा देखने को मिला। वहीं वार्ड पार्षद के प्रतिनिधि ने कहा कि स्कूल के प्रबंधक के द्वारा मुझे धमकियां भी दी गई है कि आप यहां से हट जाए नहीं तो अंजाम भुगतना होगा। प्रशासन से बुलवाकर आपको जेल भिजवा देंगे।

वार्ड पार्षद प्रतिनिधि ने सनोज कुमार ने कहा कि क्या हम यहां आपकी हत्या करने आए हैं, चोरी करने आए हैं कि आप मुझे गिरफ्तार करवाएंगे। आपके ओर से मुझे तरह-तरह की धमकियां दी जा रही है। वहीं स्थानीय नागरिक एवं पूर्व मुखिया अरुण गुप्ता ने कहा कि यह सरासर भू-माफिया का खेल है। यहां भू-माफियाओं से मिलकर जमीन को बिक्री कर दिया गया है। युवक लोगों में भी काफी इस बात का आक्रोश है कि हमलोग यहां काफी संख्या में स्टूडेंट आते हैं, यहां प्रैक्टिस करते हैं और अपना भविष्य बनाते हैं। उसको भी ताख पर रख दिया गया। सरकार के इस रवैए का हमलोग खुलकर विरोध करते हैं। हमलोग के कितने साथी दारोगा और सिपाही बने हैं। अन्य जगहों पर भी यहां से काफी संख्या में लोग गए हैं।

वहीं बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी यहां आकर चंद्रशेखर सिंह पार्क का उद्घाटन करते हैं। लेकिन कोर्ट का मामला बताकर रफा-दफा किया जा रहा है। इन लोगों का कहना है कि जब बनना ही है तो प्राइवेट क्यों सरकारी क्यों नहीं। प्राइवेट के हाथ में क्यों बेचा गया। सरकारी स्कूल बना दिया जाता जिसमें पार्क भी रहता। चंद्रशेखर बाबू की प्रतिमा भी रहती और एक तरफ मंदिर भी रहता। किसी को कोई कठिनाई नहीं होती। लेकिन इन सब बातों को ध्यान में नहीं रखते हुए भू-माफिया के हाथ बिक्री कर दिया गया है। अगर कोई कार्रवाई नहीं हुई तो आगे आंदोलन की बड़ी तैयारी किया जा सकता है।

यह भी पढ़े : PM मोदी राजभवन में मॉर्निंग वॉक के बाद पटना साहिब गुरुद्वारा में टेका माथा

यह भी देखें : https://youtube.com/22scope

उमेश चौबे की रिपोर्ट

Related Articles

Stay Connected

115,555FansLike
10,900FollowersFollow
314FollowersFollow
187,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles