38.3 C
Jharkhand
Monday, April 15, 2024

Live TV

जर्जर सड़क की हालत से तंग आकर एकजुट हुए ग्रामीण और जो हुआ…..

कोलेबिराः कोलेबिरा के ग्रामीण जर्जर सड़क की हालत से तंग आकर एकजुट हो गए और रोड नहीं तो वोट नहीं का नारा दिया। यह सारा मामला कोम्बाकेरा मोड़ की बताई जा रही है। जर्जर सड़क को लेकर कोम्बाकेरा मोड़ में ग्राम कोम्बाकेरा सहित पहानटोली, बड़केतुंगा, कुलासोया और मोरहाटोली समेत पांच बस्ती के कुल 100-150 ग्रामीण सड़क की जर्जर हालत से तंग आकर एकजुट हुए।

जोन सुरीन और जोधन सिंह की अध्यक्षता में ग्रामीणों ने कोंबाकरा मोड़ पर बैठक कर कोम्बाकेरा मोड़ पक्की सड़क से बड़केतुंगा होते हुए पहानटोली (केतुंगा धाम) तक करीब 7 किलोमीटर तथा पक्की सड़क से कोम्बाकेरा बस्ती होते हुए मोहराटोली तक 6 किलोमीटर का ग्रेड-1 सड़क का कालीकरण तथा पक्कीकरण की मांग की।

लोगों ने की नारेबाजी

क्षेत्रीय ग्रामीणों की विशेष मांग जीवन की मूलभूत आवश्यकता है रोटी, कपड़ा मकान, विकास का मंत्र “रोड”सभी ने एक सुर में नारा दिया, रोड नहीं तो वोट नहीं, समाजसेवी बसंत साहू और देव कुमार गंझु ने बताया कि इस सड़क पक्कीकरण की मांग बहुत पुरानी है। हर वर्ष बरसात के चार महीने आवागमन बाधित होता है।

जर्जर सड़क 2

इस संबंध में अनेकों बार राज्य और केंद्र सरकार के जनप्रतिनिधियों को मौखिक और लिखित रूप में आवेदन दिया जा चुका है। लेकिन केंद्र सरकार का लक्ष्य “विकसित भारत” एवं राज्य सरकार का लक्ष्य “जनता की समस्याओं का समाधान हमारी प्राथमिकता” यहां पर उक्त बातें सब निरर्थक प्रतीत हो रही है।

इसीलिए थक हार कर यहां के ग्रामीण एकजुट होकर सर्व समिति से निर्णय लिए है कि आने वाली आगामी चुनाव का हम बहिष्कार करेंगे। कोलेबिरा प्रखंड के लचड़ागड़ पंचायत के अंतर्गत कोंबाकेरा मोड़ से कोंबाकेरा होते हुए, कोंबाकेरा,बड़केतूंगा, कुलासोया,पहान टोली, मोरहा टोली के करीब सैकड़ों ग्रामीणों एवम विद्यालय में अध्यनरत बच्चे लचरागढ़ पढ़ाई-लिखाई के लिए इसी मार्ग से आना जाना होता है।

बरसात में होती है काफी परेशानी

आज की बैठक में पक्की सड़क के न होने से समस्याओं से जूझ रहे स्थानीय ग्रामीणों, स्कूली बच्चों एवं केतुंगा धाम (शिव मंदिर) के श्रद्धालुओं की आवागमन में होने वाली समस्याओं पर चर्चा किया गया। बरसात के दिनों में कीचड़ होने से सड़क दलदल बन जाता है। सड़क की हालत काफी दयनीय हो गई है, ग्रामीण इसी कच्ची सड़क से आने-जाने को विवश हैं, पक्की सड़क के लिए वर्तमान केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा को उनके मुख्यमंत्री काल से ही मांग करते आ रहे हैं।

उनके जनता दरबार में 19 मार्च 2023 को बरसलोया में भी मौखिक एवं लिखित रूप में प्रस्तुत किया गया था। उन्होंने 2023 में ही रोड की पक्कीकरण का आश्वासन दिया था। वहीं लचरागढ़ आगमन के दौरान भी अर्जुन मुंडा जी को सड़क की मांग को लेकर आवेदन दिया गया था।

यहां के स्थानीय कोलेबीरा विधायक नमन बिक्सल कोनगाड़ी को भी स्थानीय ग्रामीणों के द्वारा अनेकों बार मौखिक और लिखित आवेदन दिया जा चुका है। आम ग्रामीणों का कहना है कि प्रखंड प्रशासन, जिला प्रशासन सहित क्षेत्र के सभी जनप्रतिनिधियों को समस्या से अवगत कराया गया है बावजूद किसी का भी इस और ध्यान नहीं है,शुरू से ही हमें सिर्फ आश्वासन मिला है परंतु हम ग्रामीणों की मांग पूरी नहीं की गई है।

Related Articles

Stay Connected

115,555FansLike
10,900FollowersFollow
314FollowersFollow
16,171SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles