27.7 C
Jharkhand
Thursday, May 23, 2024

Live TV

राज्यपाल सी.पी. राधाकृष्णन ने राष्ट्रीय रक्षा महाविद्यालय के सदस्यों के साथ किया संवाद

रांचीः माननीय राज्यपाल सी.पी. राधाकृष्णन ने आज राजभवन में राष्ट्रीय रक्षा महाविद्यालय, नई दिल्ली के सदस्यों के साथ चर्चा की। उन्होंने महाविद्यालय ‘Faculty & Course Members’ द्वारा ‘National Security and Strategic Studies’ कोर्स के तहत झारखण्ड राज्य में ‘Economic Security’ पर अध्ययन के लिए आये टीम के सदस्यों के साथ संवाद करते हुए कहा कि विकास के लिए सुरक्षा एवं आर्थिक सुरक्षा दोनों महत्वपूर्ण है।

राज्यपाल ने राष्ट्रीय रक्षा महाविद्यालय के सदस्यों के साथ किया संवाद
राज्यपाल ने राष्ट्रीय रक्षा महाविद्यालय के सदस्यों के साथ किया संवाद

ये भी पढ़ें-एंबुलेंस नहीं मिलने से छात्र की मौत, और फिर छात्रों ने जो किया……. 

उन्होंने कहा कि वर्तमान में हमारा देश विश्व की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। उन्होंने कहा कि मैं विभिन्न देशों का भ्रमण कर चुका हूं। राष्ट्रीय रक्षा महाविद्यालय, नई दिल्ली का गौरवशाली इतिहास रहा है। आगे उन्होंने कहा कि राज्य में स्थापित झारखंड रक्षा विश्वविद्यालय को सैनिक विश्वविद्यालय के रूप में गठन करने हेतु इच्छुक हैं।

22Scope News

झारखंड में पर्यटन के विकास की असीम संभावनाएं हैं

राज्यपाल महोदय ने कहा कि झारखंड राज्य का गठन बिहार से अलग होकर 15 नवम्बर, 2000 को सृजन हुआ और जब यह संसद में विधयेक रखा गया था तब वे लोकसभा सांसद थे एवं उन्हें इस पर अपना मत देने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। राज्यपाल महोदय ने कहा कि यहां पर्यटन के विकास की असीम संभावनाएं हैं। यहां के कई स्थल पर्यटकों को आकर्षित करते हैं।

22Scope News

ये भी पढ़ें-Pakur Breaking-एयरफोर्स के जवान ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, और हुआ….. 

झारखण्ड राज्य में खेल के क्षेत्र में कई प्रतिभा हैं। जैसे महेंद्र सिंह धोनी, जिनके नेतृत्व में भारत ने 2011 में विश्व कप जीता, यहीं के रहने वाले हैं। झारखंड को ‘तीरंदाजी की भूमि’ कहा जाता है। यहां की कई बेटियां हॉकी में अपना सर्वश्रेष्ट प्रदर्शन कर देश एवं झारखण्ड को गौरवान्वित कर रही है। उक्त अवसर पर उपस्थित ‘Course Members’ के टीम के सदस्यों ने अपने विचार प्रकट किये।

Related Articles

Stay Connected

115,555FansLike
10,900FollowersFollow
314FollowersFollow
187,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles