Bihar Jharkhand News
Bihar Jharkhand Latest News | Live TV

दही-चूड़ा के भोज में पुलिस, पब्लिक और पूर्व नक्सली पांत में

दही-चूड़ा के भोज में पुलिस, पब्लिक और पूर्व नक्सली पांत में

रांची : दही-चूड़ा- देश भर में मकर संक्रांति के पव को लेकर उत्साह है. श्रद्धा के साथ मनाया जा रहा है. वहीं झारखंड की राजधानी रांची के ग्रामीण एसपी आवास में मकर संक्रांति बेहद खास तरीके से मनाई गई. मौके पर पूर्व नक्सली, आम लोग और पुलिसकर्मियों के साथ मिलकर ग्रामीण एसपी ने दही-चूड़ा का लुफ्त उठाया.

जरूरतमंदों के बीच कंबल वितरण

वैसे मकर संक्रांति पूरे देश में 15 जनवरी को मनाया जायेगा. इस मौके पर दही चूड़ा का अपना ही अलग महत्व माना जाता है. इस पर्व पर आपसी भाईचारे का संदेश दिया जाता है. राजधानी रांची में भी मकर संक्रांति के मौके पर रांची पुलिस के ग्रामीण एसपी नौशाद आलम के आवास पर बेहद खास अंदाज में मकर संक्रांति मनाई गई मौके पर जहां जरूरतमंद लोगों के बीच कंबल वितरण किया गया.

सभी धर्म के लोग एकसाथ मिलकर मनाते हैं त्यौहार- ग्रामीण एसपी

वहीं एक लाइन में बैठकर एसपी से लेकर पूर्व नक्सली और आम लोगों के साथ पुलिसकर्मियों ने दही चूड़ा का लुफ्त उठाया. मौके पर ग्रामीण एसपी ने बताया कि भारत की संस्कृति को हमने बचपन से देखा है कि सभी धर्म के लोग एकसाथ मिल कर पर्व त्यौहार मनाते हैं. इसलिए पूर्व नक्सली से लेकर आम लोगों के साथ मिल कर खुशियां बना रहे हैं.

दही-चूड़ा: कार्यक्रम में पूर्व नक्सली भी हुए शामिल

राजधानी रांची सहित पूरे देश में मकर संक्रांति के रंग में रंगा है. वही राजधानी रांची के ग्रामीण एसपी आवास पर अनोखी मकर सक्रांति देखने को मिली. सामाजिक सद्भाव का उदाहरण पेश करते हुए एसपी आवास में मकर संक्रांति मनाया गया. जिसमें पुलिस विभाग के जवान, आम लोग के साथ-साथ मुख्यधारा से जुड़ चुके पूर्व नक्सली भी शामिल हुए. जो इस मौके पर बेहद उत्साहित नजर आ रहे थे. मौका था जब किसी एसपी के आवास में एक लाइन में बैठकर दही चूड़ा का लुफ्त उठाते नजर आए.

मकर संक्रांति के मौके पर दही चूड़ा का महत्व संदेश यह बताता है कि हमारी संस्कृति में सभी लोग मिलकर खुशियां मनाते हैं और दुख से लेकर सुख तक कंधे से कंधा मिलते हैं.

रिपोर्ट: मुर्शीद आलम

Similar Posts