Bihar Jharkhand News

जेडीयू नेता बलियावी के बयान पर गरमाई राजनीति

Facebook
Twitter
Pinterest
Telegram
WhatsApp

PATNA: जनता दल यूनाइटेड नेता मौलाना गुलाम रसूल बलियावी द्वारा झारखंड में एक सभा के दौरान दिए गये विवादास्पद बयान पर बिहार की राजनीति गरमा गई है. एक बार फिर से बयानों का महाभारत छिड़ गया है. आरजेडी ने एक ओर जहां इस बयान को अमर्यादित बताया है. वहीं बीजेपी ने भी जेडीयू पर निशाना साधा है.

बताया गया कि हजारीबाग में एक रैली के दौरान जनता दल यूनाइटेड के नेता गुलाम रसूल बलियावी अपने भाषण में शब्दों की मर्यादा भूल गए. अपने भाषण के दौरान वे इतने उत्तेजित हो गए कि उस उत्तेजना में अपने-आपको संभाल नहीं सके और शहरों को कर्बला बना डालने की बात कह डाली.

इस दौरान आयोजित एक सभा में उन्होंने बीजेपी से

बर्खास्त नेता नुपूर शर्मा के खिलाफ जमकर आग उगला.

हालांकि जेडीयू नेता गुलाम रसूल बलियावी ने अपने बयान को

स्वीकार करते हुए इस पर सफाई दी है. उन्होंने कहा कि पहले

लोग कर्बला शब्द को समझें. हम हुसैन वाले हैं, यज़ीद वाले नहीं.

सब लुटा देंगे लेकिन मानवता और इंसानियत को नहीं लूटने देंगे,

कर्बला के नाम पर दहशत फैलाने वाले लोग पहले कर्बला को समझें.

आरजेडी नेता ने जेडीयू से की कार्रवाई की मांग


वहीँ जेडीयू नेता गुलाम रसूल बलियावी द्वारा दिए गए बयान पर

सहयोगी दल आरजेडी ने जनता दल यूनाइटेड नेतृत्व की ओर

इशारा करते हुए कहा कि इस मामले में वे ही कार्रवाई करेंगे.

लेकिन भाषण के दौरान मर्यादा में रहने की सलाह भी दे डाली.

राजद प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने गुलाम रसूल बलियावी की

विवादित बोल को भाषाई आतंकवादी घोषित किया है. उन्होंने कहा कि भाषाई आतंकवादी किसी को भी नहीं फैलाना चाहिए.

घृणा और नफरत की राजनीति के खिलाफ ही आरजेडी की लड़ाई है. देश तो चलेगा नियम कानून और संविधान से उन्होंने कहा कि जनता दल यूनाइटेड का नेतृत्व इस बात में सक्षम है और वह इस पर संज्ञान लेगा. लेकिन आरजेडी इस तरह की भाषाओं का समर्थन नहीं करता.

बीजेपी ने नीतीश से पूछा-बलियावी के खिलाफ कार्रवाई करेंगे क्या?


भारतीय जनता पार्टी इस मामले को हाथ से नहीं जाने देना चाहती. केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने इस मामले पर कहा कि स्वाभाविक है इसलिए टुकड़े टुकड़े गैंग राम चरितमानस पर गालियां देते हैं, लेकिन कुरान पर टिप्पणी करने की हिम्मत नहीं है.


वहीं भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता रामसागर सिंह ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से सवाल पूछते हुए कहा कि किसानों को लूटने वाले पदाधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करते हैं तो क्या बलियावी के खिलाफ कार्रवाई करेंगे.

Recent Posts

Follow Us

Sign up for our Newsletter