खड़गपुर झील की प्राकृतिक खूबसूरती देखने पहुंच रहे हैं सैलानी

author
0 minutes, 1 second Read

MUNGER: मुंगेर में ठंड का मौसम आते ही खड़गपुर झील

की प्राकृतिक खूबसूरती को देखने सैलानी पहुंचने लगे हैं.

झील को देखने मुंगेर सहित आसपास के कई जिलों से लोग आते हैं,

लेकिन संसाधनों के घोर अभाव है. खड़गपुर झील में दूर- दूर से

पिकनिक मनाने आए लोग पिकनिक स्पॉट का आनंद उठाने

के बाद शाम ढलते ही वापस लौट जाते हैं क्योंकि यहां रहने

की कोई व्यवस्था नहीं है. लोगों ने सरकार से खड़गपुर झील

को और बेहतर बनाने की मांग की है.

ठंड के दिनों में खुषनुमा मौसम के बीच सैलानी भी

खड़गपुर झील के प्राकृतिक सौंदर्य का दीदार करने पहुंचने लगे हैं.

वहीं आज सैलानियों की काफी भीड़ खड़कपुर झील पर देखी गई. सैलानियों ने यहां की प्राकृतिक वादियां, पहाड़ और झील को अपने कैमरे में कैद किया.

झील की प्राकृतिक खूबसूरती – सैलानी अक्टूबर से फरवरी महीने तक झील पहुंचते हैं

अमूमन सैलानी अक्टूबर से फरवरी महीने तक झील की खूबसूरती निहारने पहुंचते हैं. सैलानियों ने बताया कि आसपास के एरिया में इस तरह की प्राकृतिक वादियों का नजारा देखने को नहीं मिलता, शहरों में धूल प्रदूषण, शोर- शराबा आदि से दूर खड़गपुर झील में सुकून भरे एहसास लेने के लिए पहुंच जाते हैं क्योंकि सरकार खड़गपुर झील में पर्यावरण को बचाए रखे हैं. वहीं सैलानियों ने बताया कि इस तरह के नजारे बहुत कम देखने मिलते हैं,

हवेली खड़गपुर झील बिहार के मुंगेर जिला मुख्यालय से तकरीबन 40 किलोमीटर की दूरी पर हवेली खड़गपुर स्थित है. आपको बता दें कि पूर्व बिहार के खूबसूरत पिकनिक स्पॉटों में एक खड़गपुर झील सैलानियों की पहली पसंद है. वहीं चारों तरफ सुंदर पहाड़ों के बीच स्थित यह झील प्रकृति की सुंदरता का एक नमूना है. पहाड़ों के बीच एक बांध बनाया गया है जिससे इस झील का पानी नदी में प्रवाहिक किया जाता है. खड़गपुर झील को किसानों के लिए वरदान माना जाता है

सीएम से ईडी की पूछताछ से पहले रांची में चढ़ा सियासी पारा

Similar Posts