अब 17-18 नवंबर को रांची में होगा झामुमो कार्यकर्ताओं का महाजुटान

author
0 minutes, 0 seconds Read

RANCHI: रांची में झारखंड मुक्ति मोर्चा के कार्यकर्ताओं के महाजुटान

के कार्यक्रम में बदलाव किया गया है.अब राज्य भर से कार्यकर्ता

17 और 18 नवंबर को राज्य की राजधानी में जुटेंगे.

पहले 16 और 17 नवंबर को ये कार्यक्रम होना था.

ये महाजुटान ऐसे वक्त में हो रहा है जब राजनैतिक गतिविधियां

जोरों पर हैं और राजनीति के कई जानकार सरकार के

भविष्य को लेकर भी सवाल उठा रहे हैं.

17 नवंबर को CM हेमंत सोरेन को उपस्थित होने को कहा गया

दरअसल अवैध खनन मामले में पूछताछ के लिए प्रवर्तन निदेशालय

यानि ईडी ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को पूछताछ के लिए समन भेजा है.

मुख्यमंत्री को 17 नवंबर को उपस्थित होने को कहा गया है.

माना जा रहा है कि इसी वजह से राजधानी में पार्टी कार्यकर्ताओं

को पहुंचने के लिए कहा गया है. पिछले दिनों पूछताछ के लिए

बुलाने पर राहुल गांधी सैकड़ों कांग्रेस कार्यकर्ताओं और

नेताओं के साथ ईडी दफ्तर पहुंचे थे. कयास लगाया जा रहा है

कि हेमंत सोरेन भी ऐसा कर सकते हैं. इसके साथ ही कार्यकर्ताओं के महाजुटान को पार्टी और सरकार के शक्ति प्रदर्शन से भी जोड़कर देखा जा रहा है. राजनीति के कई जानकार मानते हैं कि हेमंत सोरेन पार्टी कार्यकर्ताओं के जरिए केंद्र सरकार को अपनी ताकत का भी एहसास कराना चाहते हैं. हेमंत सोरेन से ईडी की पूछताछ को देखते हुए सरकार में सहयोगी कांग्रेस पार्टी ने भी अपनी भारत जोड़ो यात्रा स्थगित कर दी है. इसके अलावा लोगों की नजरें आज होने वाली बैठकों पर भी टिकी हैं. बदले राजनीतिक हालात को देखते हुए आगे की रणनीति पर चर्चा के लिए आज शाम 7 बजे से यूपीए विधायक दल की बैठक भी बुलाई गई है. इसके साथ ही कांग्रेस और झारखंड मुक्ति मोर्चा विधायक दल की अलग-अलग बैठक भी होगी. दोनों पार्टियों ने अपने विधायकों रांची में ही रहने के निर्देश दिए हैं.

रिपोर्ट: शाहनवाज

सीएम से ईडी की पूछताछ से पहले रांची में चढ़ा सियासी पारा

Similar Posts