44.8 C
Jharkhand
Monday, June 17, 2024

Live TV

श्रद्धेय सुशील मोदी की याद में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन, राज्यपाल व मुख्यमंत्री हुए शामिल

पटना : बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री व भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी की याद में आज पटना के रविंद्र भवन में एक श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया। इस सभा में राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, भाजपा के अध्यक्ष व डिप्टी सीएम सम्राट चौधरी और उपमुख्यमंत्री विजय कुमार सिन्हा समेत कई लोग शामिल हुए।

22Scope News

इस सभा में राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर ने कहा कि सुशील मोदी से मेरी पहली मुलाकात संघ के प्रचारक के समय हुआ था। जब हम बिहार राज्यपाल बनकर आए तब सुशील मोदी पहले ऐसे व्यक्ति थे जो मुझसे मिले। उन्होंने कहा कि उन्होंने मुझे बिहार के विषय में बताया। वे भले ही हम उम्र थे लेकिन वे अभिभावक थे। उन्होंने कहा कि हमें उन्होंने कई संगठनों से भी जोड़ते हुए बताया कि बिहार में काम करना हो तो यह जरूरी है। उन्होंने कहा कि उनके कार्य के प्रति यह कार्यान्जली है।

वहीं श्रद्धांजलि सभा में सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि सुशील कुमार मोदी जैसा हमने एक अच्छा दोस्त को खो दिया। हम दोनों साथ में ही राजनीति की शुरुआत की थी। जेपी आंदोलन के समय से ही हम साथ में थे। साथ ही बिहार सरकार में कई बार हम दोनों एक साथ काम किए। उनकी निधन की खबर सुनकर मैं बहुत ही बेचैन हो गया था। इस दुख की घड़ी में परिवार जनों के साथ खड़ा हूं और आगे भी रहूंगा। दोस्त को फिर से सच्ची श्रद्धांजलि।

इधर, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष और उपमुख्यमंत्री सम्राट चौधरी ने कहा कि हमने मार्गदर्शक और बड़ा नेता खोया है। सरकार से लड़ना आसान नहीं होता है। सुशील कुमार मोदी ज्यादा उम्र में भी कोई बैठक में अनुपस्थित नहीं होते थे। पार्टी की चिंता भी वे लगातार करते रहे। उन्होंने कहा था कि वित्त विभाग को सरकार की चीजों को देखना होगा। उन्होंने कहा कि जब उनके निधन की खबर मिली तो शॉकिंग समाचार था। उन्होंने कहा कि वे कहते थे कि वह मार्गदर्शन करते रहेंगे। उन्होंने कहा कि मोदी ने जो रास्ता दिखाया है, उस पर हम चले यही सच्ची श्रद्धांजलि है।

केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा कि सुशील कुमार मोदी निर्भीक नेता थे। उन्होंने कहा कि अगर मुझे किसी ने हिंदी सिखाया तो वह मोदी थे। उन्होंने कहा कि वे कहा करते थे कि जैसा भी हिंदी बोले लेकिन बोलते रहे। आज उन्हीं के कारण हम जैसी भी हिंदी बोल पाते हैं वह बोलते हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें भूल पाना आसान नहीं है।

उपमुख्यमंत्री विजय कुमार सिन्हा ने कहा कि सशील मोदी में अपनत्व भाव रहा। सकरात्मक सोच रहा है। इनकी निर्भीकता के साथ भ्रष्टाचार से लड़ाई लड़ी। अराजकता के विरुद्ध लड़ कर बिहार को निकाला। इनकी कमी पार्टी को ही नहीं बिहार को खलेगी। पूर्व केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि सुशील मोदी का जीवन विशिष्ट है। इस मौके पर दिवंगत मोदी के पुत्र उत्कर्ष ने श्रद्धांजलि सभा मे आने वाले सभी लोगों का आभार जताया। उन्होंने कहा कि वे सुबह में उठ जाते थे। उन्होंने अपने पापा के जीवन दर्शन को बहुत अच्छी तरह से प्रस्तुत किया।

इस कार्यक्रम का मंच संचालन सभा के संयोजक संजय गुप्ता ने किया। इस श्रद्धांजलि सभा को केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह, नितिन नवीन, संजीव चौरसिया, गंगा प्रसाद, प्रेम कुमार, भीखू भाई दालसानिया, मेरठ के सांसद राजेन्द्र अग्रवाल, आचार्य किशोर कुणाल, आरएन सिंह, जस्टिस संजय, मंत्री विजय चौधरी, संजय झा, पत्रकार प्रकाश, याज्ञवक़्ल शुक्ल, शाहनवाज हुसैन, विधायक अरुण सिन्हा ने भी अपनी बात रखी। भाजपा के सभी अधिकारी और बड़ी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित रहे। इस मौके पर पूर्व उपमुख्यमंत्री सशील मोदी की पत्नी और पूरा परिवार उपस्थित था। इस मौके पर भजन कीर्तन भी प्रस्तुत किया गया।

यह भी पढ़े : एयरपोर्ट के बाद सुशील मोदी का पार्थिव शरीर पहुंचा निजी आवास

यह भी देखें : https://youtube.com/22scope

Related Articles

Stay Connected

115,555FansLike
10,900FollowersFollow
314FollowersFollow
187,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles