दो पक्षों में हिंसक झड़प

छठ में मूर्ती विसर्जन के दौरान दो पक्षों में हुई हिंसक झड़प

author
0 minutes, 1 second Read

ARA: दो पक्षों में हिंसक झड़प – छठ में मूर्ती विसर्जन के दौरान दो पक्षों में हुई हिंसक झड़प

दो चचेरे भाई को इस घटना में गोली मारकर घायल कर दिया गया.

आरा टाउन थाना क्षेत्र के सिंगही पेट्रोल पंप के पास

पूर्व के विवाद को लेकर दो पक्षों में सोमवार की

देर रात हिंसक झड़प की घटना घटी. इस दौरान

झगड़ा सुलझाने गए दो चचेरे भाइयों को गोली मारकर

जख्मी कर दिया गया. जबकि तीसरे को लाठी डंडे और

धारदार हथियार से सिर पर वार कर जख्मी कर दिया गया.

आपसी वर्चस्व और पूर्व के विवाद को लेकर घटना

को अंजाम देने की बात कही जा रही है. जख्मी एक युवक 30 वर्षीय अभिषेक राज सिंह सिगही निवासी नागेंद्र कुमार सिंह उर्फ गोपाल जी का बेटा है. जबकि दूसरा जख्मी 25 वर्षीय युवक सागर कुमार सिंह सिंगाही निवासी नरेंद्र कुमार सिंह का बेटा है. दोनों रिश्ते में चचेरे भाई हैं. जबकि तीसरे जख्मी युवक का नाम ढेमन है जो सिंगही गांव के ही देवजी सिंह का बेटा है. बदमाशों ने ढेमन को पीट-पटकर कमरे में बंद कर दिया था. अभिषेक राज को जहां बाएं तरफ छाती में गोली लगी है, वहीँ दूसरा जख्मी सागर कुमार को नाक में गोली मारी गई थी. दोनों जख्मी को आनन-फानन में परिजन इलाज के लिए बाबू बाजार स्थित डॉक्टर विकास के क्लीनिक में लाए . जहां डॉक्टर ने तत्काल ऑपरेशन करके बाएं तरफ की छाती से गोली निकाल दिया.

दो पक्षों में हिंसक झड़प – मूर्ती विसर्जन को लेकर शुरू हुआ था झगड़ा

 घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि छठ मैया के मूर्ति विसर्जन को लेकर सभी लोग महुली घाट पर गए हुए थे. जहां विसर्जन के दौरान ही दो पक्षों में विवाद उत्पन्न हो गया था. इसके बाद सिंगही गांव में पहुंचते ही मामला काफी गरमा गया. जख्मी अभिषेक राज ने बताया कि दो गुट आपस में झगड़ा कर रहे थे मैं और मेरा चचेरा भाई सागर झगड़ा सुलझाने के लिए गए थे इसी दौरान गोली एवं फरसा से मारकर जख्मी कर दिया गया.

घायल अभिषेक के बारे में बताया जा रहा है कि 2 साल पहले भी उसे गोली लगी थी. अभिषेक की मां वार्ड का चुनाव भी लड़ रही है. इधर घटना की जानकारी मिलते ही टाउन थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर अनिल कुमार घटनास्थल पर पहुंचे. इसके बाद गांव में पुलिस ने सर्च अभियान चलाया. इसी दौरान पुलिस ने बंधक बनाए गए तीसरे जख्मी ढेमन को बाहर निकाला और उसे इलाज के लिए डॉ विकास के क्लीनिक में पहुंचाया गया. पुलिस ने इस मामले में 2 लोगों को हिरासत में लिया है.

आरा में उबाल! आभूषण कारोबारी की हत्या के खिलाफ बाजार बंद

Similar Posts