25 सूत्री मांगों को लेकर झारखंड राज्य अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ का प्रदर्शन

25 सूत्री मांगों को लेकर झारखंड राज्य अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ का प्रदर्शन

मोरहाबादी में जुटी हजारों की भीड़

रांची : 25 सूत्री मांगों को लेकर झारखंड राज्य अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ ने रांची स्थित

मोरहाबादी मैदान में धरना प्रदर्शन किया. इस दौरान मैदान में हजारों की भीड़ देखी गयी.

धरना प्रदर्शन में झारखंड राज्य के कोने-कोने से नियमित और नियमित मानदेय,

संविदा अनुबंध पर कार्यरत कर्मी रांची के मोरहाबादी पहुंचे.

इस दौरान नारेबाजी करते हुए जुलूस निकाला गया.

रैली की अध्यक्षता डॉ. मनोज कुमार सिन्हा ने की, तथा संचालन प्रदेश महामंत्री अशोक कुमार सिंह ने किया.

इन्होंने रैली को किया संबोधित

विशिष्ट अतिथि आईटीयूसी सिंगापुर के सीनियर लीडर एसएमएस पासा, मुख्य वक्ता राष्ट्रीय संगठन सचिव अशोक कुमार सिंह ने रैली को संबोधित करते हुए 25 सूत्री मांगों का समर्थन किया, तथा झारखंड सरकार से मांग किया कि राज्य कर्मियों को सेवानिवृत्त की उम्र सीमा 65 वर्ष की जाए. वर्ग 4 एवं वर्ग 3 का ग्रेड पे में एकरूपता लाते हुए 24 सौ रुपए किया जाए और आउटसोर्सिंग कर्मियों को नियमित किया जाए.

ओडिशा सरकार की तर्ज पर लागू करे सरकार

रैली में 25 सूत्री मांग प्रस्तुत करते हुए प्रदेश महामंत्री अशोक कुमार सिंह ने कहा कि सहिया, बीटीटी, एसटीटी, योग शिक्षक, एनएचएम कर्मी और डीएमएफटी के मांगों को पूरा किया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि ओडिशा सरकार की तर्ज पर झारखंड राज्य के सभी विभागों में मानदेय कर्मी, अनुबंध कर्मी, संविदा कर्मी को नियमित करे. सचिवालय एवं मुफस्सिल का वेतनमान एवं सेवा शर्त में एकरूपता लाते हुए चतुर्थ वर्गीय कर्मियों को तृतीय वर्ग में प्रोन्नति किया जाए. इस दौरान उन्होंने कई मांगों को रखा. रैली में उमेश पांडे, रामजी सिंह, सुशांत कुमार साहू सहित कई लोग उपस्थित रहे. इस दौरान हजारों की भीड़ मोरहाबादी मैदान में देखी गई.

Similar Posts