गुड टच और बैड टच

बाल अधिकारों को लेकर कोडरमा पुलिस का जागरुकता अभियान

Koderma-गुड टच और बैड टच- ग्रामीण परिवेश के बच्चों को बाल अधिकारों के प्रति जागरूक

करने को लेकर कोडरमा पुलिस और सत्यार्थी फाउंडेशन (Satyarthi FOundation) की ओर से संयुक्त अभियान चलाया जा रहा है.

इस अभियान के तहत कोडरमा के नक्सल प्रभावित

बेंदी इलाके में प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया.

बेंदी पंचायत भवन में आयोजित प्रशिक्षण कार्यक्रम में कोडरमा पुलिस की

दो महिला इंस्पेक्टर ने वहां मौजूद छात्राओं को बाल अधिकारों के प्रति जागरूक किया

और बाल अधिकारों से जुड़ी कानूनी प्रावधानों की जानकारी भी दी.

गुड टच और बैड टच की दी गयी जानकारी

इस मौके पर ग्रामीण छात्राओं को गुड टच और

बैड टच के बारे में भी विस्तार से बताया गया,

साथ ही सोशल मीडिया के गलत इस्तेमाल से बचने की सलाह भी दी गई.

मौके पर मौजूद छात्राओं ने भी महिला पुलिस

पदाधिकारियों से बाल अधिकारों से जुड़े कई सवाल भी पूछे.

महिला सब इंस्पेक्टर अमृता खलको ने बताया कि बच्चियों को

उनके अधिकारों के प्रति सजग रहने के साथ-साथ बाल विवाह,

बाल तस्करी के रोकथाम को लेकर जागरूक किया जा रहा है.

इसके अलावा कोडरमा पुलिस की ओर से ग्रामीण क्षेत्रों में

शिक्षा का स्तर ऊंचा उठाने की पहल भी की जा रही है.

सत्यार्थी फाउंडेशन के कार्यकर्ता मनोज ने बताया कि जिले के

सुदूरवर्ती गांव में इस तरह के अभियान चलाए जा रहे हैं और

बच्चियों को उनके अधिकारों के प्रति सजग बनाया जा रहा है.

NIT, Jamshedpur में 12 वें दीक्षांत समारोह

Similar Posts