झोलाछाप डॉक्टरों की लापरवाही ने ली 10 वर्षीय बच्ची की जान, हंगामा

author
0 minutes, 0 seconds Read

MUNGER: मुंगेर में बासुदेवपुर ओपी अंतर्गत रायसर मोहल्ला में

के दौरान 10 वर्षीय बच्ची जेनब खातून की मौत हो गई.

शनिवार की शाम झोलाछाप डॉक्टर ललन कुमार के यहां इलाज

आक्रोशित परिजनों ने डॉक्टर पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा किया.

हंगामा के बीच डॉक्टर क्लीनिक और घर छोड़कर फरार हो गए.

हंगामा के बाद क्लीनिक और घर छोड़कर फरार हुए डॉक्टर

जानकारी के अनुसार हाजी सुजान मिन्नत नगर निवासी मोहम्मद सनवर अपनी 10 वर्षीय बच्ची को खांसी

और बुखार की शिकायत पर इलाज कराने शनिवार की शाम  डॉ ललन के क्लीनिक पर गए थे। डॉक्टर

द्वारा ₹450 की दवाई और सुई लिखा गया. सुई लगाते ही बच्ची की तबीयत बिगड़ने लगी और मुंह से झाग निकलने लगा.

उसके बाद डॉक्टर ने परिजन को बच्ची को किसी बड़े डॉक्टर के यहां ले जाने की सलाह देकर वहां से भेज दिया.

परिजन बच्ची को लेकर सदर अस्पताल गए जहां डॉक्टरों ने बच्ची को मृत घोषित कर दिया.

आक्रोशित परिजनों ने बच्चे की मौत के लिए डॉक्टर ललन कुमार को जिम्मेदार बताते हुए कार्रवाई

की मांग करते हुए हंगामा किया. रायसर स्थित डॉक्टर के घर के बाहर बच्ची का शव रखकर

परिजन देर रात तक हंगामा करते रहे.

Similar Posts