38.3 C
Jharkhand
Monday, April 15, 2024

Live TV

पटना में पीड़ित NRI से चिकन लॉलीपॉप और बटर नॉन खाने वाले दो पुलिसकर्मी सस्पेंड, थानेदार पर भी लटकी कार्रवाई की तलवार

पटना. एक NRI से ऑटो गैंग द्वारा बैग लेकर फरार हो जाने के मामले में दो पुलिसकर्मियों पर गाज गिरी है। दोनों को सस्पेंड कर दिया गया है। वहीं इस मामले में थानेदार पर भी कार्रवाई की तलवार लटक रही है।

NRI से चिकन लॉलीपॉप खाने वाले पुलिसकर्मी सस्पेंड

दरअसल, कनाडा में कार शोरूम मालिक NRI रितेश बत्रा का पटना में ऑटो गैंग द्वारा बैग लेकर फरार हो जाने के बाद पटना पुलिस अब तक बैग तो नहीं ढूंढ पाई, लेकिन बैग ढूंढ रहे दो पुलिसकर्मियों ने एक होटल में जाकर एनआरआई के पैसे से सूप, चिकन लॉलीपॉप और बटर नॉन का जायका लिया। इस बात की जानकारी जब पटना पुलिस के अधिकारियों को दी गई तब डीएसपी लॉ एंड आर्डर ने लिखित शिकायत आने पर जांच की बात कही है।

मिली जानकारी के अनुसार, रितेश बत्रा के साथ दोनों पुलिसकर्मी उनकी बैग की छानबीन कर रहे थे, लेकिन दोनों जवानों को भूख लग गई और पहले उन्होंने भूख मिटाई। ब्रजेश बत्रा का आरोप है कि केस दर्ज कराने कोतवाली थाना जब वह पहुंचे तो पहले लोकेशन का मामला बता कर पुलिस ने केस लेने से मना किया। इसके बाद ऑटो चालक का नंबर दिया तो उसे बुलाकर पुलिस ने बात की और फिर छोड़ दिया।

NRI ने लगाया आरोप

एनआरआई का आरोप है कि वह पुलिस के पास चक्कर लगाकर थक गया है। दो दिनों में पटना पुलिस एक बैग भी नहीं खोज पाई तो मैं जा रहा हूं। रितेश बत्रा एक एनआरआई है और बिहार में आने के बाद उनसे अच्छा सलूक होना चाहिए था। लेकिन पटना पुलिस ने जो उनके साथ सलूक किया है, वह वाकई में निंदनीय है।

यह बात आंलाधिकारियों तक पहुंची। उसके बाद पटना पुलिस एक्शन में आई। पटना पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए फ्री में चिकन खाने वाले दोनों कांस्टेबल बबलू और विनय को सस्पेंड कर दिया है। दोनों कांस्टेबल पटना के कोतवाली थाने में कार्यरत है। वहीं पटना पुलिस ने रितेश बत्रा के थाना प्रभारी पर ऑटो चालक को पकड़कर छोड़ने के आरोप को गंभीरता से लिया है।

पटना के सिटी एसपी सेंट्रल चंद्र प्रकाश ने कहा कि थाना प्रभारी राजन कुमार से स्पष्टीकरण की मांग की गई है और अगर संतोषजनक जवाब नहीं मिला तो उनके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी। पटना पुलिस ने हालांकि इस मामले में दोनों पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया है, लेकिन इसके बावजूद रितेश बत्रा पुलिस की कार्रवाई से खुश नहीं है। क्योंकि उन्हें अब तक अपना बैग वापस नहीं मिला है। और ना ही ऑटो चालक की गिरफ्तारी हो पाई है।

Related Articles

Stay Connected

115,555FansLike
10,900FollowersFollow
314FollowersFollow
16,171SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles