Bihar Jharkhand News

छपरा की जांच हुई होती तो दोबारा शराबकांड नहीं होता: विजय

Facebook
Twitter
Pinterest
Telegram
WhatsApp

LAKHISARAI: छपरा शराबकांड की अगर जांच हुई होती तो सीवान में फिर से जहरीली शराब से मौत का मामला सामने नहीं आता. बिहार में जहरीली शराब का कारोबार एसपी की निगरानी में हो रहा है. यह आरोप लगाया है बिहार विधानसभा के नेता प्रतिप़क्ष विजय सिन्हा ने. लखीसराय में मीडिया को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि राज्य में जहरीली शराब का कारोबार एसपी के संरक्षण में चल रहा है. और सभी थाना इससे मिले हुए हैं. सरकार के संरक्षण में दारु और बालू का खेल चल रहा है.


एसपी के संरक्षण में दारू का खेल चल रहा है: विजय

विजय सिन्हा ने सीवान की घटना पर दुख जताते हुए कहा कि अगर सरकार छपरा में भ्रष्ट अधिकारियों को हटा देती तो सिवान में यह घटना दोबारा नहीं होती. वहां के एसपी के संरक्षण में दारू का खेल चल रहा है. पुलिस प्रशासन दारू और बालू में लगा हुआ है. वहां के लोग आरोप लगाते हैं पुलिस प्रशासन दारू और बालू के खेल में लगी है

‘अहंकार छोड़िये मुख्यमंत्रीजी, छपरा के प्रभावितों को देखिये’

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अहंकार को छोड़िए और जो शराब से मौत हुई उनके विधवाओं और अनाथों को देखिये. विजय सिनहा ने दोबारा छपरा के प्रभावितों के लिए मुआवजे की मांग की है. बिना नाम लिए कहा कि आपके बड़े भाई जातीय नरसंहार कराते थे और आपके भ्रष्ट अधिकारी जहरीली शराब से लोगों को मौत के मुंह में धकेल रहे हैं.

जहरीली शराबकांड में 16 लोग गिरफ्तार


जहरीली शराब कांड मामले में बिहार पुलिस मुख्यालय सख्त है.

ज़हरीली शराब कांड मामले में 16 लोगों को गिरफ्तार किया गया.

पुलिस मुख्यालय ने मुख्य आरोपी की पहचान होने का दावा किया है.

जहरीली शराब कांड की जांच के लिए पुलिस टीम का गठन किया गया था.

गिरफ्तारी के लिए छापेमारी चल रही है. पुलिस मुख्यालय

ने 4 लोगों की मौत की पुष्टि की है. एडीजी पुलिस मुख्यालय

जे एस गंगवार ने मामले की जानकारी दी है.

रिपोर्ट: राजीव कमल

Recent Posts

Follow Us

Sign up for our Newsletter