रांची: ईडी कार्यालय के बाहर हलचल हुई तेज, सुरक्षाबलों की हुई तैनाती

रांची: ईडी कार्यालय के बाहर हलचल हुई तेज, सुरक्षाबलों की हुई तैनाती

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को आज ईडी में होना था पेश

रांची : ईडी कार्यालय के बाहर सुबह से ही हलचल तेज हो गई है.

ईडी की ओर सुरक्षा को लेकर पुलिस महानिदेशक को लिखे गये पत्र के बाद ईडी कार्यालय के

बाहर भारी संख्या में सुरक्षाबलों की तैनाती कर दी गई है. बता दें कि बुधवार 2 नवंबर को ईडी ने

कथित अवैध खनन और मनी लॉन्ड्रिंग मामले में झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को

पूछताछ के लिए समन भेजा था. लेकिन सीएम हेमंत सोरेन आज रायपुर के लिए रवाना होंगे,

जहां वे आदिवासी नृत्य महोत्सव में बतौर मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल होंगे.

वहीं समन के बाद सत्तारूढ़ विधायकों की मुख्यमंत्री आवास पर हुई बैठक में

इसे बीजेपी की साजिश करार दिया. साथ ही बैठक में शामिल विधायकों ने निर्णय लिया कि

सरकार को अस्थिर करने में जुटे राज्यपाल समेत केंद्रीय एजेंसियों के दुरुपयोग के खिलाफ सभी चरणबद्ध आंदोलन करेंगे.

मुख्यमंत्री का छत्तीसगढ़ दौरा पहले से तय- सुदिव्य कुमार सोनू

बैठक के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए झामुमो विधायक सुदिव्य कुमार सोनू ने कहा कि 3 नवंबर को मुख्यमंत्री छत्तीसगढ़ में आयोजित आदिवासी नृत्य महोत्सव में शामिल होंगे. उनका कार्यक्रम पहले से तय है. इस मामले में मुख्यमंत्री विधि विशेषज्ञों से राय भी लेंगे.

कठपुतली नहीं हैं मुख्यमंत्री, जो ईडी के बुलावे पर तुरंत हो जाएंगे हाजिर- मिथिलेश ठाकुर

इधर प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने कहा कि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ईडी के समक्ष हाजिर नहीं होंगे. उन्होंने ईडी की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए कहा कि जब एक राज्य के मुख्यमंत्री को बुलाया जा रहा है तो पहले मुख्यमंत्री से ईडी के अधिकारियों को पूछना चाहिए था कि किस दिन उन्हें आने में सहूलियत होगी. राजेश ठाकुर ने कहा कि मुख्यमंत्री ईडी के समक्ष हाजिर होंगे और पूरा सहयोग करेंगे. हम लोकतांत्रिक संस्थाओं पर विश्वास करते हैं. वहीं मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने कहा कि मुख्यमंत्री कोई कठपुतली नहीं कि ईडी बुलाए और तुरंत हाजिर हो जाए.

आदिवासी सामाज के बेटे के खिलाफ रची जा रही साजिश

साहिबगंज में आपकी योजना आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम में हेमंत सोरेन ने इशारों-इशारों में केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि आदिवासी सामाज के बेटे के खिलाफ साजिश रची जा रही है. विपक्ष के अनुरोध पर इस राज्य में ईडी का जांच चल रहा है. विपक्ष के अनुरोध पर ईडी से हमें भी बुलावा आया है.

कुछ लोग इस गलत फहमी में हैं- हेमंत सोरेन

हेमंत सोरेन ने कहा कि हम उस बुलाहट से घबराते नहीं हैं. हमें भी किसी कारण से बुलाया गया है. ये दर्शाने का प्रयास किया गया है कि देखो ईडी कितना ताकतवर है. सोनिया गांधी, राहुल गांधी को ईडी बुला सकते हैं तो मुख्यमंत्री को भी बुला सकते हैं. कोई बात नहीं. उन्होंने कहा कि उसका जवाब भी हमलोग देंगे. अगर इनको लगता है कि हमारे लोगों के बीच जो पहचान है और जो छवि है अगर उनके खराब होने से खराब हो जायेगा तब तो हो गया. इसलिए कुछ लोग इस गलत फहमी में हैं. राजनीतिक रूप से नहीं लड़ सके तो संवैधानिक ताकतों का सदुपयोग करो.

रिपोर्ट: करिश्मा सिन्हा

ईडी की पूछताछ से पहले बोले हेमंत, सरकार को अस्थिर करने की साजिश

Similar Posts