42.5 C
Jharkhand
Thursday, May 30, 2024

Live TV

जामताड़ा: प्रतिमा विसर्जन के दौरान जुलूस पर पथराव

जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने की 15 राउंड हवाई फायरिंग

इंस्पेक्टर सहित कई पुलिसकर्मी घायल

जामताड़ा : जिले के नारायणपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत डोकीडीह गांव में सरस्वती प्रतिमा विसर्जन के दौरान जुलूस पर पथराव किया गया. एक विशेष समुदाय द्वारा लोगों और पुलिस पर पथराव किया गया. इस घटना में नारायणपुर इंस्पेक्टर मनोज सिंह, एएसआई संतोष गोस्वामी सहित 4 पुलिस जवान घायल हुए हैं. वहीं जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने 15 राउंड हवाई फायरिंग की है. रात्रि को ही डीसी फैज अक अहमद मुमताज तथा एसपी मनोज स्वर्गीय घटनास्थल पर पहुंचे और प्रतिमा का विसर्जन करवाया.

22Scope News

प्रतिमा विसर्जन: दोषियों पर होगी सख्त कार्रवाई- उपायुक्त

उपायुक्त ने कहा कि पुलिस को टारगेट करते हुए पथराव किया गया है. इसलिए दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा, हर हाल में कार्रवाई होगी. फिलहाल पूरे गांव को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है, और हर एक आने-जाने वालों पर नजर रखी जा रही है.

22Scope News

उपद्रवियों ने अचानक किया हमला

जानकारी के अनुसार डोकीडीह गांव देर शाम को प्रतिमा विसर्जन करने के लिए जा रहे थे. वही मौके पर कई पुलिस के पदाधिकारी तथा काफी संख्या में जवान भी साथ चल रहे थे. इसी दौरान एक समुदाय विशेष के उपद्रवियों ने अचानक पत्थर से हमला कर दिया. जिससे पुलिस पदाधिकारी तथा जवान घायल हो गए. सभी को पहले नारायणपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया और फिर वहां से धनबाद मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया.

22Scope News

प्रतिमा विसर्जन: छत पर से उपद्रवियों ने की पत्थरबाजी

स्थानीय लोगों के अनुसार, मूर्ति विसर्जन डोकीडीह में स्थापित सरस्वती प्रतिमा की होने जा रही थी. यह मोहल्ला हिन्दू बहुल मोहल्ला है. विसर्जन के रास्ते में कुछ घर विशेष समुदाय के लोगों के हैं. विसर्जन तय रूट से किया जा रहा था. इसी बीच अचानक से छत पर खड़े मोहल्ले के लोगों ने पत्थरबाजी शुरू कर दी. स्थानीय लोगों के अनुसार, सबने पहले से ही छतों पर पत्थर इकट्ठे कर रखे थे. इतना ही नहीं जैसे ही मूर्ति विसर्जन के लिए गंतव्य की ओर रवाना हुआ तो चारों ओर से अचानक समुदाय विशेष के लोगों ने शोर मचाना और लाइटिंग शुरू कर दी. फिर अचानक से हुई पत्थरबाजी के बाद मौके पर अफरा-तफरी मच गई.

22Scope News

योजनाबद्ध तरीके से किया हमला, महिलाओं को भी नहीं छोड़ा

लोगों ने बताया कि उन्हें अचानक से हुई पत्थरबाजी और उपद्रव का जरा भी अंदेशा नहीं था, लेकिन पूर्व निर्धारत और योजनाबद्ध तरीके से लोगों ने अचानक से पत्थरबाजी की और अचानक से कई गांवों के लोगों का मौके पर हुजूम उमड़ पड़ा. स्थानीय लोगों के अनुसार, के उपद्रवियों ने कई घरों में घुसकर महिलाओं और बच्चों से भी मारपीट की है. फिलहाल पुलिस व प्रशासन की टीम मौके पर कैंप कर रही है.

रिपोर्ट: उज्जवल

Related Articles

Stay Connected

115,555FansLike
10,900FollowersFollow
314FollowersFollow
187,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles