21 से 25 नवंबर तक हेमंत सरकार के खिलाफ बीजेपी का हल्ला बोल

author
0 minutes, 0 seconds Read

RANCHI:: झारखंड बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने कहा कि

हेमंत सोरेन सरकार के खिलाफ बीजेपी 21 से 25 नवंबर तक राज्य के

सभी जिलों में जोरदार प्रदर्शन करेगी. उन्होंने कहा कि यह प्रदर्शन

कल रांची से शुरु होगा जो 25 नवंबर को दुमका में जाकर खत्म होगा.

प्रदर्शन में बड़ी संख्या में लोग शामिल होगें. दीपक प्रकाश ने

सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि पिछड़ों को उनके अधिकार से वंचित करते हुए नगर निगम के चुनाव की घोषणा होने जा रही है, जिसका बीजेपी पुरजोर विरोध करती है. उन्होंने कहा कि जब से हेमंत सोरेन की सरकार बनी है होल्डिंग टैक्स में इजाफा हुआ है ,नगरीय सुविधाओं में कमी हुई है. इन सभी मुद्दों को भी बीजेपी उठाएगी.

हेमंत सरकार पर दीपक प्रकाश ने साधा निशाना


दीपक प्रकाश ने हेमंत सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि राज्य में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है. राज्य में राजनीतिक अराजकता है , वित्तीय आराजक्ता है ,
कहा कि भ्रष्टाचार की छूट लगातार 32 महीनो से दी जा रही है. चाहे ई लीगल माइनिंग का सवाल हो, टेंडर मैनेज करने का सवाल हो सभी जगह भ्रष्टाचार हुआ है. उन्होंने कहा कि बीजेपी लगातार जनता की अभिव्यक्ति बन कर सड़को पर उतर रही है. उन्होंने बताया कि बीजेपी प्रखंड से आगे जिले में अब कार्यक्रम कर रही़, जो 21 से 25 नवंबर तक चलेगा.
उन्होंने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन पर निशाना साधते हुए कहा कि सीएम को ईडी ने सम्मन दिया था, जिस तरीके से सत्ताधारी दल ने राजनीतिक नौटंकी करने का काम किया और जनता के सामने इसे पेश करने का काम किया, जैसे आजादी की लड़ाई लड़ कर आए हों , ऐसा लग रहा था झारखंड के आंदोलन में सीएम की बड़ी भूमिका हो. उन्होंने कहा कि सीएम तो ईडी दफ्तर भ्रष्टाचार के आरोप में गए थे. पहली बार देश में किसी सीएम को ईडी ने समन किया था. सीएम को भी भूलने की आदत हो गई है , वो पंकज मिश्रा , अमित अग्रवाल , पूजा सिंघल को भी नहीं पहचानते आज दाहू यादव फरार है या फरार करवाया गया , उसकी जल्दी गिरफ्तारी होनी चाहिए.
सीएम इस राज्य के लोगों की भी चिंता करें , पीएम के द्वारा भेजे जाए गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत महज 12 प्रतिशत लोगों को लाभ मिला है. 88 प्रतिशत कालाबाजारी हुई है. पीएम आयुष्मान योजना गरीबों के लिए लाई गई , यहां की सरकार ने उसका नाम बदल कर सीएम आयुष्मान योजना करने का काम किया और राज्य सरकार अपने हिस्से की राशि अस्पतालों को नहीं दे रही इससे लोगों को लाभ नहीं मिल रहा.

झोलाछाप डॉक्टरों की लापरवाही ने ली 10 वर्षीय बच्ची की जान, हंगामा

Similar Posts