भारत जोड़े यात्रा की सफलता

जहां-जहां भारत जोड़े यात्रा, वहां-वहां पीएम को काटना पड़ रहा है फिता

Patna– कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने कहा है कि भारत जोड़े यात्रा की सफलता का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि जहां जहां भारत जोड़े यात्रा पहुंचती है, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को वहां वहां खुद ही कैम्प करना पड़ रहा है, जयराम रमेश ने कहा कि इस भारत जोड़े यात्रा से आज समाज का हर तबका प्रभावित है, खुद प्रधानमंत्री भी इससे अछूते नहीं है, यही कारण है कि जिन जिन राज्यों से यह काफिला निकलता है, प्रधानमंत्री को उन उन राज्यों में कैंप करना पड़ रहा है.

भारत जोड़े यात्रा की सफलता, चार राज्यों में पीएम को करना पड़ा है कैंप

जयराम रमेश ने कहा कि हालत यह हो गयी है कि अब प्रधानमंत्री को इन राज्यों में बार-बार दौड़ कर फिता काटना पड़ रहा है, उन्होंने कहा कि भारत जोड़े यात्रा का मकसद भारत की सामूहिक शक्ति को जागृत करना है.

इस यात्रा का चुनाव से कोई मतलब नहीं है, हमारा कोशिश संगठन को मजबूत करने की है.

उन्होंने कहा कि 28 दिसंबर से बिहार में इस यात्रा की शुरुआत होगी.

बांका से बौद्ध गया तक यह यात्रा निकाली जायेगी.

1200 किलोमीटर की यह यात्रा होगी.

21 छूटे हुए जिले से यहभारत जोड़ो यात्रा निकली जाएगी.

इस अवसर पर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, सांसद अखिलेश सिंह,

प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा सहित कई नेता मौजूद रहें.

Similar Posts