Bihar Jharkhand News

मुंगेर: हस्तशिल्प मेले में देखें 64 कारीगरों के हुनर का जादू

Facebook
Twitter
Pinterest
Telegram
WhatsApp

MUNGER: मुंगेर के नगर भवन परिसर में आयोजित शिल्प उत्सव मेला में 64 कारीगरों के हुन का जादू आप देख सकते हैं. शिल्प मेला में शिल्प स्वयं सहायता समूह के 64 कारीगरों द्वारा हस्तशिल्प से तैयार सहारनपुर का फर्नीचर, उत्तर प्रदेश के भदोई का कालीन, लखनऊ का चिकन वर्क, राजस्थानी लहंगा और कुर्ती, लुधियाना का कंबल, कश्मीर का शॉल और सूट के अलावे 16 स्टॉल पर कई तरह के हस्तशिल्प सामग्री की प्रदर्शनी लगी है. प्रदर्शनी को देखने और स्टॉल से सामान खरीदने के लिए लोगों की काफी भीड़ जुटी है.


मेले का उद्घाटन सदर एसडीपीओ उपनगर आयुक्त ने किया उद्घाटन


टाउन हॉल में आयोजित शिल्प उत्सव मेले का उद्घाटन सदर अनुमंडल पदाधिकारी यतिन्द्र कुमार पाल और उपनगर आयुक्त विनय कुमार ने संयुक्त रूप से फीता काट कर किया. मेला में शिल्पी स्वयं सहायता समूह के कारीगरों द्वारा तैयार हस्तशिल्प सामग्री की खरीदारी करने के लिए काफी संख्या में लोग पहुंचे. शिल्प मेला में समूह के 64 कारीगरों द्वारा हस्तशिल्प से तैयार सहारनपुर का फर्नीचर, उत्तर प्रदेश के भदोई का कालीन, लखनऊ का चिकन वर्क, राजस्थानी लहंगा एवं कुर्ती, लुधियाना का कंबल, कश्मीर का सॉल एवं सूट के अलावा 16 स्टॉल पर अनेक तरह के हस्तशिल्प सामग्री की प्रदर्शनी लगी है.


किफायती दरों में मिल रहे हैं सामान

शिल्पी स्वयं सहायता समूह के संचालक सुधीर शर्मा ने बताया कि

सहारनपुर का फर्नीचर 02 हजार से 40 हजार तक, भदोई का

कालीन 500 से 16 हजार तक, कश्मीरी शॉल 600 से 50 हजार तक,

राजस्थानी लहंगा 150 से 350 तक, भागलपुरी सिल्क 250 से

6 हजार तक की किफायती दर पर उपलब्ध है. प्रदर्शनी

सुबह 11 से रात 9 बजे तक चल रही है. प्रदर्शनी में बच्चों के

मनोरंजन के लिए विभिन्न प्रकार के झूला और खाद्य पदार्थ के भी स्टॉल लगाए गए.

रिपोर्ट: अमृतेश सिंह

Recent Posts

Follow Us

Sign up for our Newsletter